चारागाह भूमि में खनन करने का टोडा ग्रामवासियों ने किया विरोध

पूर्व में भी इसी भूमि पर खनन को लेकर हुआ था भरी विरोध

नीमकाथाना: नीमकाथाना टोडा सड़क मार्ग से मात्र 20 मीटर की दूरी पर चारागाह भूमि पर खनन कार्य चल रहा है। इस खनन कार्य का ग्राम वासी शुरू से ही विरोध करते आए है। 2008 में खनन मालिकों और ग्रामवासियों में चारागाह भूमि खसरा नंबर 225, 231 और 232 पर खनन कार्य करने को लेकर संघर्ष हुआ था। जिसका मामला भी कोतवाली सदर में दर्ज है। 2008 से लेकर अभी तक 14 साल से उक्त जगह कोई खनन कार्य नही किया गया था। 

लेकिन कुछ दिनों से खनन मालिक असामाजिक तत्वों का डेरा वहां डाल कर खनन कार्य चालू कर रहे है। जिससे ग्रामीणों में रोष है, उक्त चारागाह भूमि में ग्रामीणों के शमशान और माता का मंदिर भी स्थापित है। टोडा पुलिस चौकी के लिए भी उक्त चारागाह भूमि में ही जमीन आवंटित की गई है।

 टोडा ग्रामवासियों ने जिला कलेक्टर और एसपी महोदय को ज्ञापन देकर उक्त खनन कार्य तुरंत बंद करवाने की गुजारिश की है। ग्रामीणों ने बताया की ग्रामवासियों द्वारा पुन विरोध किए जाने पर खनन माफियाओं के बदमाशों के साथ झड़प हो सकती है और कोई भी अप्रिय घटना घट सकती है।

 ग्रामवासी माइनिंग इंजिनियर सीकर से भी मिलकर उक्त समस्या से अवगत करवाया है। इस दौरान जकरतार सिंह टोडा, सीताराम यादव सरपंच, पुरण सिंह, माल सिंह, हरिसिंह, जयमल गुर्जर, लक्ष्मण सिंह, हनुमान गुर्जर, रोहिताश वर्मा, महताब सिंह, दान सिंह, शेर सिंह, जीतू सिंह, केसर सिंह, कबूल सिंह, सतवीर वर्मा, माडूराम वर्मा, कप्तान सिंह सहित अनेक ग्रामीण मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…