आइसोलेट सेंटर में लंपी से ग्रसित गौवंश के ईलाज के लिए पशु चिकित्सक दे रहे सेवाएं, सिरोही गौशाला में सहयोग दिया

नीमकाथाना: औद्योगिक क्षेत्र स्थित लंपी बीमारी से ग्रस्त गौवंश को लेकर आइसोलेट सेंटर बनाया गया। पिछले 15 अगस्त से 65 गायों को आइसोलेट किया जा चुका हैं। गायों को पकड़ने के लिए नगरपालिका से 5 गाड़ियां लगाई गई हैं। जो आसपास के क्षेत्र से बीमारी से ग्रस्त गायों को आइसोलेट सेंटर पहुंचाने का कार्य कर रही हैं। पशु चिकित्सा विभाग के बलराम यादव ने बताया कि गायों के इलाज में आइवरमेकटिन, इंजेक्शन अनाल्जिन, सीपीएम, एनरोफ्लोकसासिन, मेलोनेक्स पैरा इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं। समय समय पर काढ़ा के साथ खाने में पालक, लोकी, गुड़, हरा चारा, काकड़ी आदि दी जा रही हैं। वहीं सुनील जाट उर्फ बुली राजनगर द्वारा 11 स्प्रे आइसोलेट में उपलब्ध करवाऐं गए। 

इधर, अबतक 6 पशु मृत हो चुकी जिनको नगरपालिका द्वारा खडा खोदकर धफनाया गया। साथ ही 40 गाय रिकवर हो चुकी हैं। नगरपालिका द्वारा गौवंश की देखरेख के लिए कृष्ण गुर्जर को तैनात किया गया हैं।

 इस दौरान पशु चिकित्सा टीम में संजू जाट, अनिल जाखड़, डॉ गोपीराम कुमावत, संदीप जाट, राकेश सैनी आदि सेवाएं से रहे हैं। दूसरी तरफ सिरोही कस्बे के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर मानसिंह गुर्जर ने जन्मदिवस पर गोपाल कृष्ण गौशाला सिरोही में सहयोग कर मनाया। 

गोशाला अध्यक्ष जयदयाल शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि डाॅ मानसिंह गुर्जर ने 5100 रुपए आर्थिक सहयोग व 40 किलो गुड़ , 45 किलो पशु खल का सहयोग दिया है।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…