नवरात्र दुर्गा पूजा महोत्सव: दूसरे दिन संध्याकालीन कवि सम्मेलन में कवियों ने भक्ति रस की कविताओं से श्रोताओं को किया मंत्र मुग्ध

इंद्राज योगी की रिपोर्ट...
नीमकाथाना: शहर में हो रहे दुर्गा पूजा महोत्सव के दूसरे दिन मां दुर्गा के ब्रह्मचारिणी रूप की पूजा अर्चना की गई। युवा जागृति संस्थान द्वारा आयोजित 16 वें दुर्गा पूजा महोत्सव पंडाल में दिनभर भक्तों का तांता लगा रहा। महिलाओं ने भजन कीर्तन किए और पूजा अर्चना कर प्रसाद ग्रहण किया। मंगलवार को शारदीय नवरात्र के दूसरे दिन पंडित अनूप शर्मा श्रीमाधोपुर ने मां दुर्गा के दूसरे स्वरूप ब्रह्मचारिणी की विधि विधान से पूजा अर्चना की। उन्होंने कहा कि मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करने से साधक की मनोकामना पूर्ण होती है। दिन में पंडाल में भक्तों की भीड़ जुटी रही।
शाम को महाआरती के बाद हुआ कवि सम्मेलन
संस्था के अध्यक्ष रावत सिंह राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि 16 वें दुर्गा पूजा महोत्सव का मंगलवार को दूसरा दिन हैं मां ब्रह्मचारिणी का भव्य दरबार सजाया गया हैं। शाम को महाआरती के बाद 8 बजे से कवि सम्मेलन आयोजित हुआ। दुर्गा पूजा महोत्सव का संध्याकालीन कार्यक्रम प्रख्यात कवियत्री सुशीला सैनी के मार्गदर्शन में आयोजित हुआ। जिसमें प्रमुख कवि व कवयित्रियों ने कविताओं के माध्यम से समां बांधा। गाजियाबाद से स्वदेश यादव ने सामाजिक स्थिति पर अपने विचार व्यक्त किए। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एंबेसडर शरमीन मंसूरी ने शब्द लालित्य के साथ व्याख्यान दिया। जिसमें बेटी पढ़ाओ के मुद्दों पर अहम चर्चा की गई। प्रसिद्ध कवियत्री सैनी की पुस्तक "पाख़ी" का विमोचन किया। जिसमें कविताओं का संग्रहण मौजूद हैं। सैनी विगत 17 साल से साहित्य के क्षेत्र में कार्य कर रही हैं। इस दौरान सहायक व्याख्याता देवी सहाय वर्मा, कवि महेंद्र कटारिया ने कविताओं के माध्यम से श्रोताओं का मन मोहा। वहीं दिल्ली से प्रसिद्ध कवयित्री नमिता नमन ने भी अपने गीत और कविताओं से श्रोताओं को खूब हंसाया। 

इस मौके पर संरक्षक सत्य नारायण जोशी, कैलाश, संजय कुमार अग्रवाल, घनश्याम जांगिड़, मीडिया प्रभारी शेखर, ऋषि, रिंकू सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…