राजस्थान की भूमि अन्न के अलावा शहादत भी पैदा करती हैं:- प्रदेशाध्यक्ष पूनिया

शहीद होशियार सिंह सामोता की 21वीं पुण्यतिथि कार्यक्रम हुए शामिल

नीमकाथाना: भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया बुधवार को नीमकाथाना दौर पर रहे। यहां उन्होंने शहीद होशियार सिंह सामोता की 21वीं पुण्यतिथि कार्यक्रम में भाग लेकर शहीद को नमन किया। इस मौके पर शहीद वीरांगनाओं का सम्मान भी किया गया। 
प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने कहा की प्रेमसिंह बाजोर ने जो 1100 शहीद प्रतिमाएं लगाने का कार्य किया है, वो सिर्फ प्रतिमा लगाने का कार्य नही बल्कि आनेवाले युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत है। राजस्थान की भूमि अन्न के अलावा शहादत भी पैदा करती है। शहीदों को सम्मान भाजपा की सरकार ने दिया हैं। रक्षा की दृष्टि से आज भारत आत्मनिर्भर बनता जा रहा है। जहां भारत मिसाइल, युद्धपोत, फाइटर प्लेन बना रहा है।

पूर्व मंत्री प्रेम सिंह बाजोर ने संबोधित करते हुए कहा कि शहीद का दर्जा भगवान के बराबर होता है। किसी भी शुभकार्य को करने से पूर्व अपने गांव या आसपास में लगी शहीद प्रतिमा पर अवश्य जाएं। 
सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने कहा कि केंद्र सरकार ने शहीद परिवारों के लिए कई प्रकार की योजनाएं लागू की हैं। इन योजनाओं से शहीद परिवार लाभान्वित भी हो रहे हैं। प्रत्येक ग्राम और बस्ती के लोगों को शहीद परिवारों का सम्मान करना चाहिए। 

कार्यक्रम से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, पूर्व मंत्री प्रेमसिंह बाजोर और सांसद सुमेधानंद सरस्वती के साथ आए हुए अतिथियों ने शहीद होशियार सिंह सामोता की मूर्ति पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। कार्यक्रम के बाद शहीद वीरांगना कविता सामोता का शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के नीमकाथाना पहुंचने पर पाटन, रायपुर मोड़, बाजोर कार्यालय पर स्वागत भी किया गया।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…