गुटखा व्यापारी को व्हाट्सएप कॉल व वॉइस रिकॉर्डिंग कर 20 लाख की फिरौती मांगी, नहीं देने पर जान से मारने की धमकी



नीमकाथाना। शहर में आए दिन कोई न कोई डकैती, चोरी, धमकी फिरौती के मामले सामने आते रहते हैं। अपराधी खुलेआम नीम का थाना पुलिस को चुनौती देते रहते है। ऐसे में कई मामले ऐसे हैं जिनके खुलासे नहीं हुए। ऐसा ही ताजा मामला नीमकाथाना में कोतवाली थानांतर्गत कपिल मंडी स्थित गुटखा व्यापारी से फोन पर फिरोती की मांग करके जान से मारने की धमकी का सामने आया हैं। जिससे शहर के व्यापारियों में दहशत का माहौल है। व्यापारियों ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए हैं।
जानकारी के मुताबिक पोस्ट ऑफिस के पास गुटखा व्यापारी की फर्म राम किशोर सुभाष कुमार के नाम से है। बुधवार शाम को गुटखा व्यापारी सुभाष अग्रवाल को व्हाट्स एप पर कॉल आया। इसी के अज्ञात के द्वारा  वॉइस रिकार्डिंग भी भेजी गई। जिसमें युवक व्यापारी को जान से मारने की धमकी देते हुए 20 लाख रुपए फिरौती की मांग कर रहा हैं। 
व्यापारी सुभाष ने बताया कि वाइस रिकॉर्डिंग में कहां गया है कि तेरी जिंदगी चाहे तो रुपए दे देना वरना तीन दिन केअंदर तेरी फाईल ही बंद कर दूंगा। युवक रिकॉर्डिंग में अपना नाम टोनी खटीक बता रहा है। जो जगदम्बा ग्रुप चलाने का हवाला दे रहा था। साथ ही, दुसरी वाइस रिकार्डिंग में वह पुलिस को नही बताने और किसी अन्य की मदद नहीं मांगने की धमकी दे रहा है।

तीन दिन में पैसे देने की मांग
आरोपी टोनी खटीक ने व्यापारी से तीन दिन के अंदर पैसे देने की बात कही है। ऐसे में व्यापारी बुरी तरह से भयभीत हो गया है। कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। व्यापारी की सुरक्षा के लिए व्यापारी के प्रतिष्ठान और घर पर जवान मुस्तैद किए गए है।

पूर्व में भी व्यापारी से घट चुकी घटना
5 महीने पहले ही व्यापारी सुभाष चंद अग्रवाल के साथ घर जाते समय बाइक सवार नकाबपोश युवकों ने मारपीट करते हुए बैग में रखे 2लाख रुपए लूट करने की वारदात को अंजाम दिया था। इससे पूर्व भी व्यापारी को गैंग द्वारा फिरौती मांगने व जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है।

मामले को लेकर पुलिस जांच में जुटी
उक्त मामले को लेकर थानाधिकारी बद्री प्रसाद मीणा ने बताया कि व्यापारी सुभाष अग्रवाल ने थाने में उपस्थित होकर फिरौती मांगने व जान से मारने को लेकर मामला दर्ज करवाया हैं। उक्त मामले की जांच की जा रही हैं।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…  
  विज्ञापन…