दस वर्षीय बच्चे की मौत, परिजनों ने लगाया आरोप, प्रदर्शन किया

नीमकाथाना। सदर थानांतर्गत क्षेत्र राजुवाली गुंवार मोटाली तन गणेश्वर में तबीयत बिगड़ने पर एक बच्चे की मौत का मामला सामने आया है।
मिली जानकारी के मुताबिक 10 वर्षीय मृतक अशोक के हृदय में छेद था। अशोक के पिता दुबई में मजदूरी करते हैं। अशोक तीन भाई बहनों में सबसे छोटा था। ह्रदय में छेद होने से अशोक का इलाज चलता रहता था। गुरुवार सुबह जब उसकी तबीयत खराब हुई तो उसे निजी क्लीनिक पर उसके परिजन दिखाने ले गए। वहां एक प्राइवेट डॉक्टर ने अशोक को 500 एमजी का सफेद रंग का इंजेक्शन लगाया। उसके बाद बच्चे की तबीयत ज्यादा खराब हो गई। करीब 1:30 बजे बच्चे ने दम तोड़ दिया। परिजन बच्चे को दिखाने राजकीय जिला अस्पताल ले आए। जहां प्राथमिक जांच के बाद बच्चे को मृत घोषित कर दिया गया। मामला ग्रामीणों ने मोहनलाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि निजी क्लीनिक संचालक झोलाछाप किस्म का है। अशोक की मृत्यु से पहले भी तीन जनों की भी इसी क्लिनिक पर इलाज के दौरान मौत हो गई थी। सूचना पर ग्रामीणों की अस्पताल में भीड़ जमा हो गई। परिजनों ने कहा कि जब तक उचित कार्रवाई नहीं होगी तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा। सूचना पर युवा नेता राजेश भाईडा भी मौके पर पहुंच परिजनों को न्याय दिलाने की मांग की। इस दौरान तहसीलदार सत्यवीर यादव, सदर थाना अधिकारी कस्तूर वर्मा मय जाब्ता तैनात रहे।
Previous Post Next Post