नीमकाथाना। चला टोल बूथ को किसान आंदोलन को लेकर मुक्त कर रखा था। लेकिन दोपहर 2 बजे उपखंड अधिकारी बृजेश अग्रवाल,पुलिस उपाधीक्षक गिरधारी लाल,तहसीलदार सतवीर यादव मय पुलिस जाप्ते के चला टोल पर पहुंच कर टोल को चालू करने की कोशिश की लेकिन किसानों के भारी विरोध के कारण टोल चालू नहीं कर सके ओर प्रशासन को वापस नीमकाथाना जाना पड़ा।
 पूर्व सरपंच गोपाल सैनी ने कहा कि चाहे मुकदमें लगावो, चाहे जेल में डालो जब तक कृषि के तीनों काले कानून वापस नहीं होंगे तब तक चला टोल फ्री रहेगा अगर कांग्रेस सरकार जबरदस्ती टोल चालू करने के लिए प्रशासन से दबाव बनाने का काम नहीं करे वरना किसान समझे गा की कांग्रेस सरकार कृषि कानूनों के साथ है 

कांग्रेस सरकार के खिलाफ भी किसान विरोध प्रदर्शन करेंगे, विरोध प्रदर्शन में रामावतार लांबा, कॉमरेड ओमप्रकाश गुहाला हरिसिंह झाझडिया, दीपचंद नेहरा, आदि किसान मोजूद रहे।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।