नीमकाथाना। ब्लाॅक में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस सप्ताह समापन समारोह के अन्तर्गत अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। सीडीपीओ कार्यालय प्रांगण में घूंघट प्रथा उन्मूलन हेतु हस्ताक्षर अभियान का शुभारम्भ उपखण्ड अधिकारी बृजेश गुप्ता ने किया। इसके बाद उन्होनें महिला अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने हेतु एक रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर सीडीपीओ संजय चेतानी, ब्लाॅक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. अशोक यादव, सांख्यिकी अधिकारी महेन्द्र यादव, सहायक कृषि अधिकारी बीरबल सिंह सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। इसके बाद नीमकाथाना ब्लाॅक के विभिन्न गाँवों से आई हुई किशोरी बालिकाओं को सहायक कृषि अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग, पंचायत समिति, समाज कल्याण अधिकारी आदि कार्यालयों का एक्सपोजर विजिट करवाया गया। इस दौरान बालिकाओं को इन कार्यालयों में की जाने वाली गतिविधियों, सरकारी योजनाओं को नजदीक से जानने का अवसर मिला। इसके उपरान्त राजकीय सीताराम मोदी संस्कृत महाविद्यालय, नीमकाथाना के मीटिंग हाॅल में सीडीपीओ संजय चेतानी की अध्यक्षता में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि प्राचार्य महेश कल्याण व प्रोफेसर कौशलदत्त शर्मा शामिल हुए। वक्ताओं ने महिला सशक्तिकरण के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर किशोरी बालिकाओं हेतु नृत्य, मेंहदी, पोस्टर प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिसमें नृत्य प्रतियोगिता में शिवानी, चन्दा, काजल, ममता, कल्पना पोस्टर प्रतियोगिता में बुगली, खुशबू, गुड्डी, सुन्दर, मन्जू, ज्ञानेश्वरी तथा ब्लाॅक की ब्रांड एम्बेसेडर रितु शेखावत को उत्कृष्ट प्रदर्शन हेतु प्रशस्ति पत्र एवं पारितोषिक भेंट की सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पर्यवेक्षक अरूणा राजपूत, ताराचन्द जान्दु ने भी अपने विचार व्यक्त किये। मंच संचालन महिला पर्यवेक्षक सरोज इंदुलिया ने किया। कार्यक्रम में ब्लाॅक काॅडिनेटर अंशुल श्रीवास्तव, मुकेश झाझड़िया, सभी महिला पर्यवेक्षक, एन.टी.टी. टीचर, ग्राम साथिन, कार्यकर्ता शशि टेलर, साधना, कविता , ज्योति, सुधा मौजूद रहे।




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।