नीमकाथाना। पूरी दुनिया में 2 फरवरी को विश्व आर्द्रभूमि दिवस के रूप में मनाता है। इसी को लेकर निकटवर्ती ग्राम भूदोली में वन विभाग द्वारा विश्व आर्द्रभूमि दिवस मनाया गया। रेंजर श्रवण लाल बाजिया ने जानकारी देते हुए बताया कि गांव के लोगो को एकत्रित कर नम भूमियों को सरंक्षित करने व पानी का दोहन न करने के लिए जागृत किया। फॉरेस्टर रवि सिंह भाटी ने कहा कि आर्द्रभूमि हमारे भू-दृश्य के गुर्दे हैं। जैवविविधता की दृष्टि से आर्द्रभूमि अंत्यंत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि विशेष प्रकार की वनस्पति व जीव यहीं फल-फूल पाते हैं। गौरतलब है कि आर्द्रभूमि दिवस का आयोजन लोगों और हमारे ग्रह के लिये आर्द्रभूमि की महत्त्वपूर्ण भूमिका के बारे में वैश्विक जागरूकता बढ़ाने के लिये किया जाता है। इस दौरान विभाग के कर्मचारी सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।