नीमकाथाना- अखिल भारतीय किसान सभा गुहाला, नृसिंहपुरी एवं डेहराजोहड़ी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को 33ग्रिड सबस्टेशन गुहाला पर बिजली की समस्याओं को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। नृसिंहपुरी पूर्व सरपंच एवं माकपा नेता गोपाल सैनी ने बताया कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के बीच बिजली के बिलों की राशी बढ़ाकर किसानों की कमर तोड़ने का काम किया है।
इस विषय की अखिल भारतीय किसान सभा के कार्यकर्ताओं ने जिला स्तरीय आव्हान पर सोमवार को गुहाला बिजली पॉवर हाउस पर सभी उपभोक्ताओं के छः महीने के बिजली बिल माफ करने, घरेलू बिजली की बढ़ाई गई दरों को वापस लेने, किसानों की बिजली की दस हजार तक की सब्सिडी पुनः जारी करने, गलत वीसीआर की लूट बंद करने, स्थायी सेवा शुल्क फ्यूल चार्ज के नाम पर चार्ज वसूलना बंद करें, गुहाला बिजली पॉवर हाउस पर जेईएन बैठाने सहित अनेक मांगो को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन लिखकर ऑफिस पर चस्पा किया गया। कामरेड ओमप्रकाश ने बताया कि कोरोना की आड़ में राजस्थान सरकार किसानों को बिलों के माध्यम से लूटने का काम कर रही है।अगर कोरोना महामारी में बिजली उपभोक्ताओं की दयनीय स्थिति को देखते हुए अविलंब समाधान नही किया गया तो किसान सभा बड़े स्तर पर आंदोलन करेगी। इस दौरान विरोध प्रदर्शन करने वालो में सुरेश सैनी, दातार सैनी, पंच धर्मपाल सैनी, धोलू गुर्जर, रोहिताश यादव, नरेश सैनी, रामसिंह, अशोक सैनी, हरफूल सैनी आदि किसान कार्यकर्ता मौजूद रहे।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।