सांवलपुरा तवरान में डंपरों से उड़ने वाली धूल मिट्टी से ग्रामीण हुए परेशान,करीब दो घंटे तक लगा जाम

अजीतगढ़ पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले को करवाया शांत, रास्ते को खुलवाया
नीमकाथाना@ सांवलपुरा तवराण में ग्रामीणों ने खनन में चलने वाले डंपरों से उड़ने वाली धूल मिट्टी से परेशान होकर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं ग्रामीणों ने सड़क पर पत्थर डालकर जाम लगा दिया। करीब दो घंटे तक सड़क जाम रहा। डंपरों की काफी लंबी कतार लग गई। सूचना पर अजीतगढ़ थाना पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंची। थानाधिकारी सवाई सिंह ने ग्रामीणों ने समझाइश कर मामले को शांत करवाया।
समझाइश के बाद जाम को हटवाकर रास्ते को सुचारू करवाया। जानकारी के अनुसार सांवलपुरा तवराण में गोयल ग्रुप के खानों से डंपरों में  माल भरकर अन्य जगहों पर दोहन करते है। वहीं गांव के मुख्य रास्ते से होते हुए डंपर जाते है जिससे पूरी सड़क क्षतिग्रस्त हो चुकी। जिससे धूल मिट्टी उड़ती रहती है। जिससे गांव के अनेकों लोग भयंकर बीमारियों का शिकार हो गए। जिसके चलते ग्रामीणों ने कई बार विभाग के अधिकारियों को अवगत भी करवा दिया था।
लेकिन राजनीतिक रसूल के चलते कोई कार्यवाही नहीं की जाती। जिसके चलते ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर सड़क को जाम कर दिया।

डंपरों से उड़ने वाली धूल मिट्टी से ग्रामीण हो रहे है भयंकर बीमारियों का शिकार
ग्रामीण रामवतार गुर्जर ने जानकारी देते हुए बताया कि डंपरों से उड़ने वाली धूल मिट्टी से ग्राम में कई लोग भयंकर बीमारियों का शिकार हो चुके है। वहीं धूल मिट्टी से मकानों के अंदर तक जम जाती है। वहीं लोगों को अस्थमा, दमा, टीबी सहित कई बीमारी हो चुकी है। शिकायतें दर्ज करवाने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं होती।

ग्रामीणों की शिकायतों पर नहीं होती कोई कार्यवाही
ग्रामीणों ने बताया कि मामलों को लेकर हमने कई बार उपखंड प्रशासन से लेकर उच्च अधिकारियों तक अवगत करवा दिया। लेकिन हमारी शिकायतों पर आजतक कोई कार्यवाही नहीं की जाती। शिकायतें पर उल्टा हमें ही डरा धमका दिया जाता है। जिससे खनन माफियाओं के हौसले बुलंद हो रहे है।

दिन-रात धड़ल्ले से चल रहे है डंपर
सांवलपुरा त्वरण में बेरोकटोक धड़ल्ले से दिन रात ओवरलोड डंपर चलते रहते हैं जिससे धूल मिट्टी का गुबार उठता रहता है गांव की मुख्य सड़क भी डंपरों से पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी। लेकिन विभाग ने मामले को लेकर शिकायतें करने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं होती है।

तेज डंपरों से दर्जन भर जानवरों ने गंवा दी जानें
तेजगति से चलने वाले डंपरों की टक्कर से करीब दर्जन भर जानवरों ने भी जान गंवा दी। जानकारी के अनुसार डम्फर इतनी तेज गति से चलते हैं कि पिछले दिनों में एक भेस, दो गाय, बकरियों के पैर टुट चुके हैं। पिछले दिनों तो एक गाय डम्फर की टक्कर से मर गई थी।

Previous Post Next Post
  विज्ञापन…  
  विज्ञापन…