खननकर्ता हैवी ब्लास्टिंग कर सरकारी क्षेत्र में अवैध खनन को दे रहे है अंजाम
नीमकाथाना। उपखंड क्षेत्र में अवैध खनन करने वालों के हौसले बुलंद हैं। अवैध खनन करने वाले दिनदहाड़े हैवी ब्लास्टिंग कर सरकारी क्षेत्र में अवैध खनन को अंजाम दे रहे हैं। क्षेत्र के चिपलाटा, सांवलपुरा, सैदाला भगवानपुरा, टोडा, गणेश्वर एवं पाटनवाटी क्षेत्र में अवैध खननकर्ता वन क्षेत्र सहित सरकारी भूमि पर ब्लास्टिंग के जरिए दिनदहाड़े अवैध खनन को अंजाम दे रहे हैं।
शनिवार को सैदाला भगवानपुरा  क्षेत्र के वन भूमि के अंदर अवैध खनन के लिए प्रयोग में लिए जाने वाले हैवी ब्लास्टिंग सामग्री को फॉरेस्टर रवि सिंह भाटी व हरलाल सिंह ने गश्त के दौरान जप्त किया। ग्रामीणों से मिली जानकारी अनुसार क्षेत्र के अनेक जगहों पर चोरी-छिपे हैवी ब्लास्टिंग करें अवैध खनन किया जाता है। अवैध खनन को लेकर कई बार खनन विभाग एवं वन विभाग के जिम्मेदारों को सूचना दी जाती है। लेकिन समय पर कार्यवाही नहीं करने के चलते अवैध खननकर्ता धड़ल्ले से खनन करके निकल जाते हैं। ग्रामीणों से मिली जानकारी अनुसार वन क्षेत्र में वन कर्मियों द्वारा भारी मात्रा में हैवी ब्लास्टिंग सामग्री जब्ती की कार्यवाही की गई है। वहीं वन विभाग एक कार्टून जब्त करने की जानकारी दी।

इनका कहना है
1. वन क्षेत्र में हैवी ब्लास्टिंग सामग्री जब्ती को लेकर अनभिज्ञता जाहिर की और कहा कि सीकर होने के कारण इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। मामले को लेकर फॉरेस्टर से जानकारी ले।
श्रवण बाजिया
क्षेत्रीय वन अधिकारी नीमकाथाना।

2. हैवी ब्लास्टिंग सामग्री की जानकारी लेने पर बताया कि वन क्षेत्र में गश्त के दौरान  हैवी ब्लास्टिंग का कार्टून जब्त किया गया है। मौके पर कोई व्यक्ति या वाहन नहीं मिला ब्लास्टिंग सामग्री को जप्त कर जांच की जा रही है।
रवि सिंह भाटी
फॉरेस्टर  नीमकाथाना।

3. वहीं खनन के लिए उपयोग में लाई जाने वाली हैवी ब्लास्टिंग जब्ती को लेकर जब  माइनिंग अधिकारी से जानकारी चाही तो बताया कि हमारे विभाग के द्वारा कहीं भी हैवी ब्लास्टिंग सामग्री जप्त नहीं की गई है। किसी दूसरे विभाग ने यह कार्रवाई की होगी। क्षेत्र में अवैध खनन की रोकथाम को लेकर टीम बनाई हुई है, जो समय समय पर अवैध खनन कर्ताओं के खिलाफ कार्यवाही करते हैं। यह हैवी ब्लास्टिंग जब्ती का मामला क्षेत्र से बाहर का है इसलिए पुलिस का मामला बनता है।
मनोज शर्मा
माइनिंग अधिकारी नीमकाथाना।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।