फिल्टर प्लांटों की कोई भी जिम्मेदार नहीं करता पानी की गुणवता की जांच
नीमकाथाना-शहर में इन दिनों फिल्टर प्लॉट मालिक लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। पींटू वाटर सप्लायर्स की कैन में दूसरी बार जिंदा साप का बच्चा तैरता हुआ मिला। शहर में मंगलवार को रामलीला मैदान स्थित गोविंद टावर में एक दुकानदार के पानी की कैन में एक बार फिर जिंदा सांप का बच्चा तैरता हुआ मिला। जिससे व्यापारियों में पानी सप्लार्यस के प्रति नाराजगी जताई। व्यापारी ने बताया कि रोज की तरह पींटू वाटर सप्लार्यस से पानी की कैन मंगवाता हॅू। सुबह पानी की कैन देकर गया। पानी पिने के लिए जब कैन के ढक्कन को खोलकर देखा तो उसमें सांप का जिंदा बच्चा पानी में तैरता हुआ नजर आया।
गौरतलब है कि विगत बीस दिनों पहले भी पींटू वाटर सप्लार्यस की कैन में पुलिया के पास बिट्टू मार्बल की दुकान में पानी की कैन में भी जिंदा साप का बच्चा तैरता हुआ मिला था। शहर में पानी सप्लार्यस के खिलाफ जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा वाटर फिल्टर प्लांट में पानी की गुणवता जांच नहीं की जाती। जिससे उनके हौंसले बुलंद हैं। सूत्रों के अनुसार फिल्टर प्लांट से ट्यूबवैल का पानी ठंडा करके कैन में भरकर बाजार में सप्लाई करते हैं। पानी भरने के स्थानों पर गंदगी फैली रहती हैं। इन प्लांटो में टीडीएस मापने के लिए भी किसी जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा आजतक कार्यवाही नहीं की। जिससे आए दिन पानी की कैनों में जहरीले जानवर आ रहे हैं। जिससे इन सप्लार्यस के खिलाफ आक्रोश व्याप्त हैं।


नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।