भगतसिंह विचार मंच के लोगों ने पालिकाध्यक्ष दीवान व ठेकेदार अलीमुद्दीन के खिलाफ मामला दर्ज करवाया
नीमकाथाना-शहर के रामलीला मैदान स्थित चौराहे पर पीपल के पेड़ को उखाड़ने वाले आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही करवाने को लेकर लोगों ने उपखंड अधिकारी अंजू शर्मा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में अवगत करवाते हुए पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष बलबीर खैरवा ने बताया कि पर्यावरण प्रेमियों व समाजसेवी संस्था भगत सिंह विचार मंच द्वारा रामलीला मैदान स्थित चौराहे पर खाली पड़ी जगह पर एक हिंदू धर्म के पूजनीय पीपल का पेड़ लगाया गया था। इस पेड़ को पहले भी कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा उखाड़ लिया गया था। जिसको लेकर पूर्व में भी भगत सिंह विचार मंच ने एसडीएम को ज्ञापन देकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी और उक्त जगह पर दोबारा पेड़ लगा दिया गया था।
लेकिन दौबारा से बिना तहसीलदार की अनुमति लिए पालिका ठेकेदार अलीमुद्दीन तथा नगर पालिका अध्यक्ष त्रिलोक दीवान ने पीपल के पेड़ को उखाड़ कर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है उन्होंने जानबूझकर एक मुस्लिम व्यक्ति के द्वारा पीपल के पेड को उखड़वाया जिससे शहर में शांति भंग होने का डर है। सरपंच प्रतिनिधि राजेश भाईड़ा ने कड़े शब्दों में निंदा करते हुए शहर का सौहार्द नहीं बिगड़ने को लेकर चौराहे से हटाया गया पेड़ वापिस लगाने की मांग की। पालिका प्रशासन द्वारा की गई घटना से शहर में आपसी सौहार्द बिगड़ने की आंशका बनी हुई हैं। वहीं छात्रसंघ अध्यक्ष सुरेश गुर्जर ने भी पालिकाध्यक्ष द्वारा किए गए कृत्य को गलत बताया। रामलीला मैदान स्थित चौराहे पर दौबारा पेड़ नहीं लगाने तक आंदोलन जारी रहेगा। भगतसिंह विचार मंच के लोगों ने पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान व ठेकेदार अलीमु़द्वीन के खिलाफ कोतवाली थाने में मामला दर्ज करवाकर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। इस दौरान राजेश बाजिया, मनोज सांई, संजय जेफ, महेन्द्र गांवली, सीताराम, विक्रम गौदारा, देवा, कैलाश मीणा, नितेश कुल्हरी आदि मौजूद रहे।



नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।