नीमकाथाना- राष्ट्रीय पोषण अभियान के अन्तर्गत ब्लाॅक स्तरीय अभिसरण समिति की बैठक उपखण्ड अधिकारी अंजू शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में ब्लाॅक स्तरीय सभी अधिकारी सम्मिलित हुए। आधारभूत ढ़ाँचे के सम्बन्ध में चर्चा करते हुए सीडीपीओ संजय चेतानी ने बताया कि ब्लाॅक में वर्तमान में संचालित 260 आंगनबाड़ी केन्द्रों में से मात्र 56 ही स्वयं के भवनों में संचालित हैं। शेष विद्यालय भवनों, सामुदायिक भवनों, निजी भवनों आदि में संचालित हैं, जहाँ मूलभूत सुविधाओं जैसे शौचालय, साफ व सुरक्षित पेयजल की सुविधाओं की कमी है। उपखण्ड अधिकारी ने पंचायती राज विभाग से इन समस्याओं को दूर करने का निर्देश दिया। बैठक में स्वास्थ्य एवं पोषण को प्रभावित करने वाले विभिन्न आयाामों जैसे वृद्धि निगरानी, स्तनपान, पूरक पोषाहार, स्वास्थ्य एवं पोषण पर परामर्श, टीकाकरण, आयरन एवं कृमिनाशक गोलियों आदि के सम्बन्ध में विस्तार से चर्चा हुई। वर्तमान में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में ब्लाॅक नीमकाथाना में उत्कृष्ट कार्य हुआ है तथा इसके अन्तर्गत 3888 व्यक्तियों को लाभान्वित करने के लक्ष्य के विरुद्ध 4458 व्यक्तियों को लाभान्वित करके लक्ष्य का 115 प्रतिशत अर्जित कर लिया गया है।
त्रैमासिक समीक्षा बैठक का आयोजन
गत वर्ष नीमकाथाना ब्लाॅक ने इस योजना में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए प्रदेश भर में आठवाँ स्थान अर्जित करने पर राज्य स्तर पर सम्मानित किया गया था। इस योजना को टीकाकरण एवं संस्थागज प्रसव से जोड़ा गया है, जिसके सुखद परिणाम दिखाई दे रहे हैं। आंगनबाडी केन्द्रों पर खिलौना बैंकों की स्थापना हेतु एक अभिनव पहल करते हुए उपखण्ड अधिकारी अंजू शर्मा ने शिक्षा विभाग का आह्वान किया कि वह सभी विद्यालयों में पढ़नें वाले सभी बच्चों को प्रेरित करें कि वह घरों में अनुपयोगी सामानों को विद्यालय में लाकर आंगनबाड़ी केन्द्रों के छोटे बच्चों को दान दें। प्रत्येक बच्चा यदि एक खिलौना लाकर देता है तो ब्लाॅक के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर खिलौना बैंक की स्थापना हो सकती है।


नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।