जयपुर- मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान के किसानों को भी जल्द ही कर्जमाफी की बड़ी सौगात मिल सकती है। राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत किसानों का कर्ज माफ करने का शीघ्र ही फैसला ले सकते हैं।

गहलोत के मुख्यमंत्री पद की शपथ के दूसरे दिन मंगलवार को किसानों के कर्ज माफ करने को लेकर कवायद तेज हो गई और सहकारिता विभाग सहित संबंधित विभागों से आंकड़ेे और जानकारी जुटाना शुरु कर दिया गया। इसी तरह भूमि विकास व अन्य बैकों से भी जानकारी ली जा रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक इस संबंध में दूसरे राज्यों के मॉडल की भी जानकारी ली जा रही है। कर्ज माफी को लेकर कवायद तेज हो गई है और एक दो दिन में ही कर्ज माफी को लेकर सरकार का फैसला आने की संभावना है।

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के ढाई घंटे बाद ही किसानों का दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने की फाइल पर हस्ताक्षर कर दिए। इसके बाद छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस सरकार ने किसानों के कर्ज माफ का फैसला कर लिया। कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में सरकार बनने पर दस दिन में किसानों का दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने का वायदा किया था।