- अभिमन्यु सिंह 

डाबला- गर्मी के मौसम में कभी जल संकट से निपटने वाली बावड़ी की अब देखरेख नहीं होने के कारण कचरापात्र बन गई है। जबकि डाबला सहित अन्य गांवों में पानी की समस्या बनी हुई है। पहले कुओं का जलस्तर इन्ही बावड़ियों से बना रहता था, तथा इन्हीं कुएं बावड़ियों से लोग अपनी प्यास बुझाते थे।


मुख्य सड़क के पास बनी क्षतिग्रस्त बावड़ी
डाबला में मुख्य सड़क के पास बनी बावड़ी जिसमें कई वर्ष पहले तक पानी भरा रहता था। जिसका उपयोग आसपास के लोग करते थे, लेकिन आज उसकी दुर्दशा हो रही है। इसकी हालत इतनी ख़राब हो चुकी है कि ये अब किसी हादसे को निमंत्रण देती नजर आ रही है।

बावड़ी पूरी तरह से क्षत विक्षत हो चुकी हैं जिसकी वजह से कभी भी बड़ा हादसा हो सकता हैं। आजकल लोगों ने इस बावड़ी में कचरा डालने का अड्डा बना रखा हैं, इसकी दीवारे कभी भी गिर सकती हैं।

ग्रामीणों कहना है कि इस संबंध में कई बार ग्राम पंचायत डाबला के सरपंच से लेकर जिला कलेक्टर सीकर को भी इस समस्या से अवगत करा दिया गया हैं पर आज तक इस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई हैं। नंदू जी ने बताया कोई भी अप्रिय घटना घट सकती है प्रशासन व पंचायत विभाग कोई कार्रवाई नहीं कर रहा।

स्पेशल रिपोर्ट - नीमकाथाना न्यूज़.इन


नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।