थोई में 30 मार्च को हुई थी चोरी, नीमकाथाना सीओ के आश्वासन पर माने ग्रामीण, विभिन्न मांगों का ज्ञापन सौंपा

थोई- चोरी का खुलासा कराने के लिए बुधवार सुबह 11 बजे से अखिल भारतीय किसान सभा के लोगों ने थोई थाने के सामने धरना दिया। थोई थाना एएसआई जितेंद्र कुमार ने समझाइश की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। करीब तीन घंटे बाद नीमकाथाना डिप्टी दिनेश कुमार आए और धरने पर बैठे लोगों को वार्ता करने के लिए थाने के अंदर बुलाया।

प्रदर्शनकारियों ने पांच लोगों को अंदर भेजा। उन्होंने नीमकाथाना सीओ को अपनी तीन सूत्रीय मांगों का ज्ञापन दिया। इसमें सबसे पहले रामेश्वर लाल पुत्र गोरूराम जाट निवासी लीला की ढाणी, जिसके यहां 30 मार्च रात्रि में उसकी दुकान में चोरी हुई थी, उसका खुलासा करने की मांग, थाने के सभी इलाकों में सुचारु रूप से गश्त करने तथा तीसरी मांग थोई गांव के इलाके में नशीली दवाइयों व मादक पदार्थों के अवैध सप्लाई पर अंकुश लगाने की मांग शामिल थी।

इस पर सीओ ने चोरी का खुलासा जल्द से जल्द करने का आश्वासन दिया। ग्रामीणों ने चेतावनी दी अगर 10 दिन में चोरी का खुलासा नहीं होगा तो थोई थाने के सामने फिर से धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

गौरतलब है कि 30 मार्च रात्रि में सिमारला रोड सनराइज स्कूल के पास रामेश्वर लाल की दुकान में चोरी हुई थी। इसमें बैटरी इनवर्टर दूध की फैट निकालने की मशीन, लैपटॉप, फ्रिज, काकड़ा की चार बोरी, पशु आहार की आठ बोरी, गैस सिलेंडर, करीब 82000 रुपए का किराने का सामान, 4000 नकदी चुराकर ले गए थे। इसकी रिपोर्ट 31 मार्च को थाने में दर्ज करवाई थी, लेकिन इसका आज तक खुलासा नहीं हो पाया। इससे लोगों में रोष है। लोगों ने शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की।

इस दौरान अखिल भारतीय किसान सभा तहसील कमेटी श्रीमाधोपुर अध्यक्ष धनसिंह यादव, सचिव कैलाश सामोता, पूर्व पंचायत समिति सदस्य रमेश सैनी, अर्जुन सैनी, पूर्ण सिंह कुड़ी, शिवराम लांबा, अमर सिंह लांबा, प्रहलाद सैनी, रामेश्वर लाल सहित महिलाएं भी उपस्थित थी।



- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।