Digital Neemkathana Android App Comming Soon...

News Update

नीमकाथाना: दलितों को जीवन में भाजपा को वोट नहीं देने की दिलाऐंगें शपथ- विधायक मेवानी

दो अप्रैल को पुलिस द्वारा निर्दोष लोगों को गिरफ्तारी को लेकर परिजनों से मिलकर जानी हकीकत

रिपोर्टर- मनीष कुमार टांक

नीमकाथाना न्यू -गुजरात विधानसभा के विधायक जिग्नेष मेवानी के नीमकाथाना आने की सूचना पर जिला प्रशासन ने शहर में सुबह 6 बजे से मध्यरात्री तक धारा 144 लागू की गई। जिसको लेकर प्रशासन ने शांति बनाए रखने को लेकर पूरे शहर में पुलिस तैनात रही। मेवानी अलवर जिले के खैरथल गांव में दो अप्रैल को हुए भारत बंद निर्दोष लोगों को गिरफ्तार हुए परिजनों से मिलकर नीमकाथाना पहुंचे।

शाम पांच बजे खेतड़ी मोड़ स्थित रैगर काॅलोनी व अम्बेडकर काॅलोनी में पहॅुचकर निर्दोष पिड़ित लोगों से मिलकर जानकारी ली।

पुलिस द्वारा किए गए गिरफ्तार निर्दोष लोगों की रिहाई को लेकर महिला न्याय के लिए गुहार लगाती हुई।
जिनमें पिडित महिला ने कहा कि मेरे पति देश की सेवा के लिए फौज में नोकरी करता हैं। मेरी सांस बिमार होने के कारण ईलाज के लिए छुट्टी लेकर घर आया था। जिसको पुलिस ने दो अपै्रल को जबरन घर से उठाकर ले गए। बूरी तरह से मारपीट कर जेल में डाल दिया। करीब डेढ़ महिना बीत जाने के बाद भी उनको छोड़ा नहीं गया।

पीड़िता ने मेवानी को सुनाई आपबीती 

वहीं अन्य पिड़ितों ने बताया कि मेरा लड़का मंदबूद्वी था जिसको पुलिस जबरदस्ती उठाकर ले गई बीच बचाव में मेरे साथ भी मारपीट की गई और लड़के को बूरी तरह से पीटा गया जो आज भी बिमार चल रहा हैं ईलाज के लिए पैसे नहीं हैं। वहीं एक छात्र ने बताया कि मैं परीक्षा देकर घर आया था शाम को पुलिस दरवाजा तोड़कर घर से पकड़ ले गई थाने में ले जाकर पुलिसवालों ने कपड़े उतरवाकर मारपीट की और कहा कि अब बोलो जय भीम और भीम के नाम पर जातिसूचक गालिया दे रहे थे।

रात को कई बार बेरिक से बाहर निकालकर पीटाई की गई। काॅलोनी की वृद्व महिला ने बताया कि पुलिस ने आकर सिर में डंडे से मारा जिसका घाव विधायक मेवानी ने भी गौर से देखकर कहा कि पुलिस ने बरबरता पूर्वक व्यवहार किया हैं।

पुलिस लोगों को झूठे मुकदमो में फँसा रही है- मेवानी 

मैवानी ने सभी की पीड़ा सुनकर कहा कि पुलिस ने घर में घूसकर महिला व बच्चों के साथ बदसलूकी करने वालों के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया और निर्दोष लोगों को ही झूठे मुकदमें में फंसा रही हैं। ऐसे में उसका परिणाम वंसुधरा सरकार को भूगतना पड़ेगा।

भाजपा सरकार द्वारा दलितों पर आए दिन अत्याचार कर रही हैं। मैं पूरे देश के दलितों से मिलकर शपथ दिलाउंगा कि जीवन में कभी भाजपा को वोट ना दें। सोमवार को जयपुर में पिडित परिजन एकत्रित होकर करीब दर्जनों भर संगठनों ने मिलकर पिड़ितों की सुनावाई कर न्याय के लडेंगें।

No comments