आदर्श गांव चला का मामला, 80 लाख से होना है काम 

चला- ग्राम चला में 80 लाख की लागत से बनने वाले गौरव पथ का निर्माण बीच में ही रुक गया। इससे लोगों को आवागमन में काफी परेशानी हो रही है। निर्माण कार्य में सबसे बड़ा रोड़ा अतिक्रमण बना हुआ है। ग्राम पंचायत ने 24 फीट में अतिक्रमियों को नोटिस देकर कार्रवाई की थी, लेकिन प्रशासन अतिक्रमण तोड़ने में हाथ खींच रहा है।

तहसीलदार ने भी 24 फीट में नपती कराकर अतिक्रमियों को नोटिस थमाए थे। अतिक्रमण के चलते ठेकेदार काम छाेड़कर चला गया। इधर, भाजपा नेता चाहते हैं कि गौरव पथ का निर्माण बिना अतिक्रमण तोड़े ही हाे।

सरपंच बीरबल काजला ने बताया कि गांव के ही कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण नहीं तोड़ा जा रहा है। दो चार लोग कार्य में बाधा डाल रहे हैं। प्रशासन को भी कई बार शिकायत दी है फिर भी अतिक्रमियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही। इससे लोगों के हौसले बुलंद हैं।

ठेकेदार द्वारा बीच में कार्य बंद करने से ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आक्रोशित ग्रामीणों ने इस मामले को लेकर कई बार एसडीएम से मिलकर निष्पक्ष कार्रवाई कर अतिक्रमण हटाने की मांग की। यदि अतिक्रमण नहीं तोड़ा गया तो प्रशासन के खिलाफ धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी है।।

साभार- दैनिक भास्कर


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।