नीमकाथाना: शहीद सम्मान बचाओ संघर्ष समिति द्वारा पांच सूत्रीय मांगाें को लेकर पालिका कार्यालय के सामने चल रहा क्रमिक अनशन, सद्बुद्धि यज्ञ व धरना रविवार को भी जारी रहा। शहीद वीरांगना कांता यादव भी बच्चों के साथ धरने में शामिल हुई। उन्होंने कहा उनके पति ने देश के लिए शहादत दी है। उनका सम्मान होना चाहिए, लेकिन नगर पालिका बोर्ड ने शहीद प्रतिमा के लिए नेहरू पार्क में जमीन के प्रस्ताव को अस्वीकार कर शहीद का अपमान किया है।

शहीद प्रतिमा की उचित देखरेख हो, इसलिए नेहरू पार्क में मांगी जगह : वीरांगना

नेहरू पार्क में शहीद सुनील यादव की प्रतिमा लगने से स्मारक की देखरेख परिवार कर सकता है। ऐसे में पालिकाध्यक्ष को उनकी मांग को स्वीकार करनी चाहिए। धरने में शहीद पिता सांवलराम यादव, मां विमला देवी, पुत्र अंश यादव, अभिषेक यादव के अलावा बहन सुशीला देवी व सुमनदेवी भी शामिल हुई।

इधर, रविवार को यादव युवा महासभा के जिलाध्यक्ष कृष्ण कुमार की अध्यक्षता में 38 लोग धरने में बैठे। इस दौरान धरने में शामिल लोगों व शहीद परिवार ने पालिका द्वारा प्रस्ताव को खारिज करने की निंदा की गई। मांग की जल्द पांच सूत्री मांगों को स्वीकार कर गतिरोध को दूर करें।

राजपूत समाज अध्यक्ष मोतीसिंह तंवर, ट्रांसपोर्ट यूनियन फैक्ट्री एरिया, नीमकाथाना अध्यक्ष कन्हैयालाल ने संघर्ष समिति का समर्थन किया है। इनके अलावा दिव्यांग संघ के प्रदेश संयोजक विजेन्द्रसिंह ने भी समर्थन दिया। इधर, संघर्ष समिति ने आंदोलन को तेज करने के लिए टीमे गठित की है जो गांवों में जाकर जागृति अभियान चलाएगी।

शहीद पिता आमरण अनशन पर बैठेंगे : 

शहीद पिता सांवलराम यादव सोमवार को आमरण अनशन पर बैठेंगे। उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि अब आरपार की लड़ाई होगी। ऐसा निर्णय इसलिए लिया गया है कि आगे से कोई शहीदों के अपमान नहीं करें।

Read Also -  शहीद प्रतिमा के लिए जमीन देने का फैसला सभी का : दीवान

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।