Digital Neemkathana Android App Comming Soon...

News Update

शहीद प्रतिमा के लिए जमीन देने का फैसला सभी का : दीवान

पालिकाध्यक्ष ने प्रेस वार्ता में कहा-नेहरू पार्क में होते हैं राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय कार्यक्रम, प्रतिमा स्थान के लिए अन्य विकल्प बताए

नीमकाथाना न्यूज़- नेहरू पार्क में शहीद प्रतिमा के लिए जमीन देनेव नामकरण को लेकर चल रहे विवाद मामले में रविवार को पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान ने कहा है कि शहीद सम्माननीय ही नहीं है, अपितु वे तो देवतुल्य हैं। सभी को उनकी पूजा करनी चाहिए। क्योंकि शहीद हम सभी के लिए देश पर कुर्बान हो जाते हैं।


वे यहां प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, मूर्ति के चयन का निर्णय जनता के चुने प्रतिनिधियों के विवेकाधीन है। अध्यक्ष तो उनके फैसले के अधीन हैं।

शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए नेहरू पार्क में स्थान उपलब्ध कराने के बारे में उनका कहना है कि पालिका मंडल की बैठक में तीन बार एजेंडा रखकर विस्तार से चर्चा के बाद निर्णय लिया गया है। दो बार पालिका द्वारा सर्वसम्मति से पाटन रोड पर चार-पांच बीघा सरकारी भूमि पर समुचित विकास करवाकर शहीद प्रतिमा लगाने का निर्णय किया था। तीसरी बार भी यह फैसला पार्षदों द्वारा बहुमत से लिया गया है।

Video - शहीद सम्मान बचावो संघर्ष समिति के सयोजक सांवल राम यादव
Posted by Sanwalram Yadav on Sunday, January 7, 2018


दीवान ने नेहरू पार्क में प्रतिमा लगाने के मामले में बताया कि यहां सभी प्रकार के राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय कार्यक्रम, मेले, प्रदर्शनी व खेलकूद प्रतियोगिताएं होती रहती हैं। पार्षदों का मत है कि एक शहीद की प्रतिमा लगाने से अन्य शहीद परिवारों से भी प्रतिमाएं लगाने की मांग आएगी। नगर पालिका शहीद प्रतिमा लगाने के लिए जगह देने को तैयार है, लेकिन स्थल विशेष को लेकर मांग करना उचित नहीं है।

खेतडी मोड़ सर्किल का नामकरण का निर्णय भी पार्षदों ने सर्वसम्मति से लिया है।

राजनीति करना दुर्भाग्यपूर्ण : 

दीवान ने प्रेस वार्ता में कहा कि शहीद को लेकर राजनीति करना दुर्भाग्यपूर्ण है। धरना स्थल पर विधायक प्रेमसिंह बाजौर द्वारा दिए गए वक्तव्य पर दीवान बोले, बाजौर सरकार के मालिक हैं। वे चाहे तो सरकार से सीधे ही प्रतिमा के लिए स्थान आवंटित करवा लें। वे इसके लिए सक्षम भी हैं।

शहीद पिता से मिलकर चर्चा की, ये विकल्प बताए

पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान ने बताया कि शुक्रवार को शहीद के पिता सांवलराम यादव से धरना स्थल पर मिलकर उन्होंने मामले में चर्चा की। इसमें नेहरू पार्क को छोड़कर अन्य विकल्पों पर चर्चा हुई। नगर के पार्षद भी अन्य विकल्पों पर निर्णय करने को अभी भी तैयार हैं। पार्षदों से हुई चर्चा में उन्होंने खेतडी रोड पर शहीद होशियार सिंह स्मारक के पास के स्थान पर, शाहपुरा रोड औद्योगिक क्षेत्र के समीप राणासर के मुख्य तिराहे पर व छावनी स्थित गोशाला के सामने जगह देने के विकल्प बताए गए। इनके अलावा भी उपयुक्त जगह पर आपसी सहमति से विचार किया जा सकता है।

Read Also- शहीद प्रतिमा की उचित देखरेख हो, इसलिए नेहरू पार्क में मांगी जगह : वीरांगना

No comments