जिले की आठों विधानसभा के लोगों के लिए राहत की खबर है। 59 सड़कों का नवीनीकरण होगा। 207 किमी लंबी सड़कों की मरम्मत होगी। राज्य सरकार ने इसके लिए 33.62 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं। 46 करोड़ खर्च कर 80 गांवों में गौरव पथ बनाए जाएंगे।
source-google

धोद और खंडेला में सबसे ज्यादा गौरव पथ बनेंगे। राज्य सरकार ने सड़कों का नवीनीकरण और गौरव पथों का काम शुरू कराए जाने की स्वीकृति दे दी है। पीडब्ल्यूडी ने टेंडर जारी कर दिए हैं। एक सप्ताह में सड़कों के नवीनीकरण का काम शुरू कर दिया जाएगा।

दांतारामगढ़ विधानसभा क्षेत्र की 7 सड़कों की मरम्मत होंगी। इससे 17 गांवों के ग्रामीण लाभान्वित होंगे। 26 किमी लंबी सड़कों पर 3.75 करोड़ खर्च किए जाएंगे। धोद की 11 सड़कें सुधरेंगी। यहां पर 4.56 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इनसे 23 गांवों से ग्रामीणों को फायदा मिलेगा।

लक्ष्मणगढ़ में 28 किलोमीटर लंबी सड़कों पर 4.03 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। सीकर विधानसभा क्षेत्र के 11 गांवों की 25 किलोमीटर लंबी सड़कों की मरम्मत कराई जाएगी। इन पर 4.13 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र में 31 किमी लंबी सड़कों का नवीनीकरण कराया जाएगा। इनमें 3.95 करोड़ की लागत आएगी। खंडेला में 27 किलोमीटर लंबी सड़कों का काम कराया जाएगा। इसके लिए 4.10 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिली है।

श्रीमाधोपुर विधानसभा क्षेत्र में 18 किमी लंबी तीन सड़कों पर सबसे ज्यादा 4.84 करोड़ रुपए खर्च होंगे। ये सड़कें अजीतगढ़ से हसामपुर, सांवलपुरा तंवरान से चूडला और कल्याणपुरा से गीदा वाली गांव को जोड़ेंगी। 6 गांवों के लोगों को फायदा मिलेगा।

मामले में पीडब्ल्यूडी एक्सईएन प्रहलादसिंह का कहना है कि 207 किमी लंबी सड़कों का नवीनीकरण कराया जाएगा। इन पर 33 करोड़ रुपए ज्यादा खर्च होंगे। मरम्मत के लिए टेंडर हो गए है। एक सप्ताह में काम शुरू करा दिया जाएगा। जिले में 80 गौरव पथ भी बनाए जाएंगे।

विधानसभा चुनावों में फायदा मिले, दिसंबर तक काम पूरा करने का टारगेट

आगामी विधानसभा चुनावों में ग्रामीणों का गुस्सा नुकसान न पहुंचा इसलिए राज्य सरकार सड़कों की मरम्मत कराने का फैसला किया है। इसके लिए नाबार्ड से 33 करोड़ का लोन लिया है। 33 करोड़ से जिले की 59 सड़कों की मरम्मत होगी। मरम्मत की जाने वाली सड़कों की कुल लंबाई 207 किलोमीटर है। पीडब्ल्यूडी ने मरम्मत के लिए टेंडर जारी

इन गांवों को मिलेगा फायदा

  • नीमकाथाना : कोटड़ा, चिपलाटा, गांवड़ी, प्रीतमपुरी, जगतसिंह नगर
  • खंडेला : जुगलपुरा, सेवली, गुराना, खानपुर, हमीरपुरा कल्याण, तिवाड़ी की ढाणी, खटूंदरा, सालवारी, चौकरी, भवानीपुरा, तपीपल्या, कोटड़ी धायलान, रॉयल, गोरिया, रामपुरा
  • श्रीमाधोपुर : कल्याणपुरा, सांवलपुरा तंवरान, गीदावाली, चूडोला, अजीतगढ़, लादी का बास 
  • दांतारामगढ़ : उमाड़ा, करड़, मगरा, डांसरोली, सूलियावास, रानोली, पलसाना, सुरेरा, गोवटी, अलोदा, धींगपुर, पचार खाचरियावास, कुली, मंढा, नया बास, प्रेमपुरा, दांता, नीमावास 
  • धोद : लोसल, भिराणा, राजपुरा, कंवरपुरा, भढ़ाढर, मैलासी, गोठड़ा भूकरान, कूदन, सिहोट बड़ी, रैवासी, खूड, बानूड़ा, गोठड़ा तगेलान, सरवड़ी, धोद, भैंरूपुरा, पूरणपुरा, सिंगरावट, सेवद छोटी, चंदेली का बास, झीगर बड़ी, झीगर छोटी, सांवलोदा पुरोहितान, जेरठी 
  • फतेहपुर : रोलसाहबसर, थेथलिया, रोसावा, हिरणा, रामगढ़ मंडावा, अलफसर, बेसवा, कंगनसर, भीकमसर, बांठोद, नारसरा, नया बास, बेरी दीनारपुरा, नारी, बेरी, रूकनसर, थाकलसर
  • लक्ष्मणगढ़ : गनेड़ी, डूंगरवास, हमीरपुरा, खूड़ी, भोजासर, हापास, पाटोदा, सिगडोला, रूल्याणा, मंगलूणा, माधोपुरा, बलारां, पालड़ी, पनलावा, रहनावा
  • सीकर : गौरियां, श्यामगढ़, हरदयालपुरा, कटराथल, रघुनाथगढ़, डाब पनोरा, टोडी माधोपुरा, किकरालिया, सांगरवा व शाकंभरी
source- Neem ka thana Bhaskar