रक्षाबंधन पर भाई की कलाई सजाने के लिए बहन ने राखी तैयार कर रखी थी। कि भाई सोमवार सुबह ही ट्रेन के सामने छलांग लगाकर बहन को सदा के लिए छोड़ गया। यह मामला गांव नाथा की नांगल का है। सुबह पहले ही एक युवक ने जीलो-मावंडा के बीच ट्रेन के आगे कूद कर कट गया। सुबह जब खेतों में घास लाने जा रहे ग्रामीणों ने युवक को ट्रैक के किनारे पड़े देखा तो वहां भीड़ जमा हो गई।

राखी के दिन भाई ने ट्रेन से काट कर दी जान
source- google images

इसकी सूचना ग्रामीणों ने तुरंत पुलिस को दी। पाटन पुलिस भी मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया। नाथा की नांगल निवासी संजीव कुमार उर्फ सोनू के शव को बाद में परिजनों को सौप दिया गया।

बताया जा रहा है कि संजीव कुमार मानसिक रोगी था। सुबह जब इकलौती बहन सोनू अपने भाई के राखी बांधने के लिए अपने ससुराल से गांव पहुंची तो भाई के मरने की खबर सुनते ही जमीन पर बेहोश हो कर गिर पड़ी। बाद में लोगो ने उसे होश में लाकर ढाढस बँधाने लगे।

यह भी पढ़ें - स्पेशल रिपोर्ट : नीमकाथाना में रेलवे ट्रेक पर ख़त्म हो रही जिंदगियाँ

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।