रक्षाबंधन के पर्व पर राखी बांधने से पहले ही बहन भाई को सदा सदा के लिए छोड़ गई। प्रीतमपुरी के समीप के गांव चीपलाटा की ढाणी बीरदास में रविवार देर रात कृष्णा देवी पत्नी सत्यनारायण गुर्जर 23 वर्ष खेत में काम कर रही थी। अचानक काले सर्प ने उसे डस लिया। सर्प के डसने के तुरंत बाद कृष्णा मौके पर बेहोश हो गई।

राखी बांधने से पहले बहन छोड़ी दुनिया, सर्प के काटने से मौत
source- google images

परिजन उसको समय रहते अस्पताल में ले जा रहे थे कि कृष्णा देवी ने बीच रास्ते में ही दम तोड़ दिया। कृष्णा देवी के दो बच्चे है।

कुछ देर पहले फोन पर हुई थी बात

सर्प काटने के कुछ देर पहले ही कृष्णा ने मोबाइल पर अपने भाई से बात की थी। परिजन के मुताबिक मोबाइल पर कर रही थी कि भैया सुबह गाड़ी लेकर पपुरना रखी बांधने आ रही हूं आप तैयार रहना मुझे जल्दी वापस आना है। मेरे यहाँ भी मेरी ननद राखी बांधने आ रही है। लेकिन विधाता को और कुछ ही मंजूर था।

परिजन की आँखो से आंसू थमने  नहीं  थे। भगवान ने भाई बहन के सपनो पर पानी फेर दिया। भाइयो द्वारा लाये गए उपहार सुने ही रह गए। 

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।