अपडेट: रामलीला मैदान में करंट लगने से युवक की मौत का मामला, एसडीएम की समझाईश पर बनी सहमति, पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपा

नीमकाथाना: कोतवाली थाना इलाके के रामलीला मैदान चौराहे पर करंट लगने से कुल्फी बेचने वाला मृतक अशोक की मौत का मामला गरमा गया। गुस्साई परिजनों ने शव लेने से इंकार करते हुए मांगों को लेकर अस्पताल परिसर में धरने पर बैठ गए थे। मामले को लेकर तहसीलदार दिनेश शर्मा, बिजली विभाग एक्सईएन रामसिंह यादव सहित कोतवाल लक्ष्मीनारायण समझाइश की लेकिन मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन जारी रहा। 

देवसेना अध्यक्ष लालचंद गुर्जर ने बताया कि नगरपालिका व बिजली विभाग की लापरवाही से मृतक अशोक की मौत हुई हैं। हमारी प्रशासन से मांग है कि मृतक के परिजनों को 50 लाख मुआवजा दिया जाए। बुजुर्ग माता पिता सहित बच्चों के पालन पोषण की जिम्मेदारी ली जाए। परिजनों में एक सरकारी नौकरी दी जाए। साथ ही दोषी प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई हो।
घंटों बाद एसडीएम बृजेश गुप्ता मौके पर पहुंचकर धरना दे रहे लोगों से वार्ता कर चिरंजीवी दुर्घटना योजना का लाभ, पेंशन सहित सरकारी योजना का लाभ दिलाने को लेकर समझाइश की। जिसपर सहमति बनी। उसके बाद शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। इस दौरान जिला पार्षद सुमित नानगवास, सरपंच सुरेश खैरवा, गजानंद सैनी, विजय माली सहित कई लोग मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…