ग्राम चला में डीवाईएफआई की मीटिंग आयोजित

रोजगार को बचाने के लिए संघर्ष तेज करना होगा - गोपाल सैनी

नीमकाथाना: ग्राम चला में भारत की जनवादी नौजवान सभा के साथियों की मीटिंग आयोजित हुई। मीटिंग में डीवाईएफआई तहसील अध्यक्ष गोपाल सैनी ने कहा कि राजस्थान गहलोत सरकार, केंद्र मोदी सरकार दोनों सरकारें रोजगार के नाम पर नौजवानों के साथ धोका कर रही हैं।गहलोत सरकार बेरोजगार भत्ते के नाम पर बेरोजगार नौजवान से चार घंटे इंटरशिप के नाम पर नौजवानों को कंपीटिशन की तैयारी में बाधा उत्पन्न कर रही। इंटरशिप के कारण बेरोजगार भत्ते से किनारा कर रहा है। 

सरकार की एक भी भर्ती बगैर घोटाले के नहीं हो रही है केंद्र की मोदी सरकार अग्निपथ के नाम पर सेना को भी ठेका प्रथा में देने की तैयारी कर रही है। देश का नौजवान को पूंजीपतियों के गुलाम होने पर छोड़ दिया जा रहा है। सभी सरकारी उपक्रमों को निजीकरण में देने के कारण सरकारी रोजगार खत्म हो गए हैं। 

नौजवानों को भारत की जनवादी नौजवान सभा के नेतृत्व में संगठित होकर दोनों सरकारों के खिलाफ नौजवान के हक अधिकार, रोजगार को बचाने के लिए संघर्ष तेज करना होगा । मीटिंग में मुकेश सिसोदिया, दिनेश मावलिया, राजकुमार मील, शेरसिंह, अशोक चाहर, सोनू शर्मा, विनोद सैनी, महेंद्र काजला, रमेश खीचड़, ओमप्रकाश सैनी आदि नौजवान मौजूद रहे ।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…