नीमकाथाना जिला बनाने के लिए प्रस्तुतीकरण हेतु सभागार में आमसभा आयोजित

नीमकाथाना: औद्योगिक क्षेत्र में स्थित भवन सभागार में आमसभा आयोजित की गई। सभा में राज्य सरकार के द्वारा प्रस्तावित जिलों के लिए बनाई गई कमेटी के समक्ष पेश किए जाने वाले प्रस्तुतीकरण को नीम का थाना की जनता के समक्ष पेश किया गया। सभा में बड़ी संख्या में लोग जुटे। इस दौरान लोगों से नीमकाथाना को जिला बनाने में सहायक बिंदुओं को लेकर सुझाव मांगे गए। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजस्थान व्यापार मंडल अध्यक्ष व विधायक सुरेश मोदी ने की।

विधायक मोदी ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिलों के गठन के लिए कमेटी गठित की है। नए जिलों की मांग करने वाले विधायकों को कमेटी के समक्ष प्रस्तुतीकरण पेश करना है। आंकलन कर कमेटी 6 महीने में रिपोर्ट पेश करेगी। उन्होंने बताया कि आज अग्रसेन भवन में आयोजित नीमकाथाना जिला बनाओ सभा में दिए गए प्रस्तुतीकरण में छूटे बिंदुओं पर लोगों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। यह सुझाव अमल में लाए जाएंगे।
जिला बनाने के लिए प्रस्तुतीकरण में यह बिंदु जोड़े गए

पूर्व आई.ए.एस.  के.एल. मीणा ने नीमकाथाना जिला बनाने के प्रस्तुतीकरण को आमजन को समझाते हुए संबोधित किया कि गठित रामलुभाया कमेटी विधायकों, जनप्रतिनिधियों सहित आम लोगों से समय-समय पर आने वाले ज्ञापनों और मांग पत्र पर विचार करेगी। 

उन्होंने बताया कि नीमकाथाना को जिला बनाने के प्रस्तुतीकरण मसौदे में नवीन जिले के सर्जन को प्रस्तावित मुख्य मानदंडों तथा जिले की भौगोलिक स्थिति व मांग की पृष्ठभूमि, जिले की जनसंख्या की स्थिति, जिला मुख्यालय से दूरस्थ तहसील की स्थिति, जिला पुनर्गठन का औचित्य एवं नवीन जिले की आवश्यकता, प्रस्तावित जिले में न्यूनतम तहसील संख्या व उपलब्ध प्रशासनिक आधारभूत संख्या, क्षेत्र के पिछड़ेपन व गरीबी की स्थिति के दृष्टि विकास,  सुशासन व सुप्रबंध एवं त्वरित अभाव अभियोग निस्तारण, चिकित्सा व स्वास्थ्य सेवा, परिवहन सेवा , शिक्षा का गहन अध्ययन व विश्लेषण कर बिंदु शामिल किए गए हैं।

इस दौरान पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष त्रिलोकचंद दीवान, महेश मेगोतिया, गोपाल सैनी, नवीन अग्रवाल ,वीरेंद्र यादव, मदन सैनी, सुरेश खैरवा, राजपाल डोई, बलवीर खैरवा सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…