नीमकाथाना: अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं ने मचाया उत्पात, रोडवेज बस के शीशे तोड़े, 22 जने गिरफ्तार

प्रशासनिक अधिकारियों सहित पुलिस आला अधिकारियों ने निकाला मार्च, शांति की अपील की

नीमकाथाना: केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर शुक्रवार को युवाओं ने जमकर उपद्रव मचाया। उग्र प्रदर्शन के दौरान युवाओं ने शहर में जगह-जगह तोड़फोड़ की। युवाओं के एक झुंड ने एसएनकेपी महाविद्यालय के पास स्थित बस स्टैंड के बाहर खड़ी रोडवेज बस के शीशे तोड़ दिए। युवाओं की भीड़ ने शहर में सड़क पर बने डिवाइडर पर लगे पेड़ों को उखाड़ कर फेंक दिया। 

जानकारी मुताबिक अग्निपथ योजना के विरोध में एसएफआई व डीवाईएफआई द्वारा राज्य व्यापी विशाल प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी संदर्भ में शुक्रवार को सुबह से ही नीमकाथाना में भी युवाओं की भीड़ जुटने लगी थी। उग्र प्रदर्शन व बढ़ती भीड़ को देखकर पुलिस ने युवाओं को खदेड़ हुए लाठियां बरसाई।

3 घंटे हाई अलर्ट पर रहा शहर
पुलिस द्वारा खदेड़े जाने पर युवाओं ने शहर में जमकर उत्पात मचाया। व्यापारियों ने तोड़फोड़ के भय से अपने प्रतिष्ठान बंद कर दिए। पूरे शहर में पुलिस व प्रशासन की गाड़ियां दौड़ती नजर आई। सरकारी वाहनों के सायरन से शहर में 3 घंटे आपातकालीन स्थिति बनी हुई थी। एसडीएम बृजेश गुप्ता ने मोर्चा संभालते हुए शहर में स्थित सभी कोचिंग सेंटर संचालकों को किसी भी प्रकार के प्रदर्शन का समर्थन न करने की हिदायत दी। 
प्रशासनिक अधिकारियों सहित पुलिस ने निकाला मार्च, शांति की अपील की
एसडीएम बृजेश गुप्ता तहसीलदार सत्यवीर यादव डिप्टी गिरधारीलाल शर्मा सहित पुलिस कोतवाल बद्री प्रसाद मीणा मय जाब्ता शहर में शांति अपील को लेकर फ्लैग मार्च निकाला। उसके बाद कोचिंग संस्थाओ सहित व्यापारियों की मीटिंग आयोजित हुई। 

पुलिस ने 22 लोगों को हिरासत में लिया
कोतवाल बद्री प्रसाद मीणा ने बताया कि अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं ने उत्पात मचाया जिसपर युवाओं को खदेड़ा गया। पुलिस ने उपद्रव में करीब 22 लोगों को गिरफ्तार किया गया।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…  
  विज्ञापन…