भारी ब्लास्टिंग की शिकायत पर सहायक खनिज अभियन्ता ने माइनिंग फौरमेन से करवाया मौका निरीक्षण

पाटन: बबलू सिंह यादव
रजो रोड पर स्थित आशा देवी कॉलेज के सामने खनन पट्टा संख्या 191/1993,192/1993 वास्ते चेजा पत्थर का खनन कार्य हो रहा था। जिसको लेकर ग्रामीणों व खनन कार्य से जुङे लोग एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहै है ।
लीज एरिया के नजदीक बने मकान मालिक जयप्रकाश यादव कि शिकायत पर सहायक खनिज अभियन्ता ने माइनिंग फौरमेन को मौके पर जाकर रिपोर्ट तैयार करने के आदेश दिए ।शिकायत कर्ता को फोन के माध्यम से मौके पर आने को कहा,लेकिन जयप्रकाश यादव ने आने मे असमर्थता जाहिर की। हालांकि बाद मे जयप्रकाश यादव खनन स्थल पर उपस्थित हुए।

 ग्रामीणों का आरोप है कि अवैध रूप से भारी मात्रा में बारूद इकट्ठे कर खुलेआम भारी ब्लास्टिंग कर खनन कार्य किया जा रहा है।खनन कार्य बहुत ही नजदीक से होने से वहां 100 मीटर दूर आसपास में रह रहे ग्रामीणों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।उन्होंने प्रशासन से व खनिज अभियंता को भी शिकायत लिखी।खनिज अभियंता ने मौके पर अपने सहायक प्रतिनिधि को भेज कर जांच करवाई ।

जांच अधिकारियों ने भी साफ तौर पर लिख दिया कि खनन कार्य अवैध रूप से किया जा रहा है ।यहां माइंस मैनेजर की भी कोई नियुक्ति नहीं है ना ही ब्लास्टिंग की परमिशन दिखा सके हैं। यहां पर ब्लास्टिंग के अवैध खनन कार्य के निशान पाए गए हैं उन्होंने कार्रवाई करते हुए खनिज अभियंता को नोटिस देने की बात भी कही है। 

वही दूसरी ओर खनन पट्टाधारी के प्रतिनिधि दारका प्रसाद मीणा ने कहा हम लोग हल्की ब्लास्टिंग कर रहे है ।लोगों ने बताया कि उनके घर में दरारे भी पड़ गई है घर में बैठे होने पर कभी भी हादसा  हो सकते है। खेतों में आवाजाही करने पर भी डर लगने लगा है । 

निहाल सिंह यादव ने बताया कि उसका मकान लीज एरिया से महज 100 मीटर दूरी पर है तथा खनन करने वाले लोग  ब्लास्टिंग की कोई सूचना न देकर  व निश्चित समय नहीं होने पर कभी भी ब्लास्टिंग करना हमारे लिए खतरों से खाली नहीं है।ऐसे में ग्रामीणों ने अपनी दुखी मन से अपनी व्यथा बताते हुए खनन कार्य को बंद करने की मांग की है।
Previous Post Next Post