विधायक ने प्रशासन की आड़ में अपनी मानसिकता का परिचय दिया - मंजू सैनी

पीसीसी चीफ व चिकित्सा मंत्री के स्वागत करने का है मामला, प्रेस वार्ता आयोजित

नीमकाथाना। पूर्व कांग्रेस महिला प्रदेश महासचिव मंजू सैनी के कार्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इस दौरान मंजू सैनी ने वर्तमान कांग्रेस विधायक सुरेश मोदी पर जमकर निशाना साधा। 
बता दें कि विगत 27 जनवरी 2022 को राजस्थान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा द्वारा छावनी में मातृ व शिशु चिकित्सालय का भूमि पूजन व शिलान्यास किया गया था।इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा जगह-जगह पर मंत्री व प्रदेश अध्यक्ष के काफिले का स्वागत किया गया था।

पूर्व कांग्रेस महिला प्रदेश महासचिव को स्वागत करने से प्रशासन द्वारा रोका गया

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मंजू सैनी ने बताया कि जिस जगह मातृ व शिशु चिकित्सालय का भूमि पूजन होना था वह स्थान मेरे कार्यलय से नजदीक था। ऐसे में हमारे कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष व स्वास्थ्य मंत्री के स्वागत की तैयारी हमारे कार्यालय पर ही कर रही थी। इस दौरान काफी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता जुटे थे। मंजू सैनी ने यह भी बताया कि प्रशासन द्वारा स्वागत हेतु लगाए गए स्वागत द्वार व बैनर को परमिशन नहीं लेने का वाला देकर हटवा दिया। प्रशासन ने बैनर हटवा कर फायर बिग्रेड की गाड़ी कार्यालय के सामने लगवा दी। इस मुद्दे व भेदभाव करने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से शिकायत करेंगी।

वर्तमान विधायक पर लगाए आरोप

मंजू सैनी ने वर्तमान विधायक पर आरोप लगाते हुए कहा कि विधायक ने प्रशासन की आड़ में अपनी मानसिकता का परिचय दिया है। आखिर विधायक में यह बौखलाहट कैसी है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं की हुई भावना आहत

मंजू सैनी ने बताया कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष व मंत्री के आगमन से पूर्व हमारे कार्यकर्ता ने पुरजोर लग्न के साथ स्वागत की तैयारी कार्यकाल कार्यालय पर ही की थी। लेकिन प्रशासन ने उनकी भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। कार्यकर्ताओं का मनोबल गिराने का कार्य विधायक ने करवाया है।

विधायक पर कसा व्यंग्य

मंजू सैनी ने वर्तमान विधायक सुरेश मोदी उस खेमे के सदस्य थे जिन्होंने राज्य सरकार को गिराने में कोई कसर नहीं छोड़ी, जो पार्टी से बागी होते है उनके साथ मित्रतापूर्ण व्यवहार और पार्टी के कर्मठ कार्यकताओं के साथ भेदभाव पूर्ण व्यवहार। आखिर यह कैसी राजनीति है।
Previous Post Next Post