नीमकाथाना: भारतीय जनता पार्टी ने जनहित के विरूद्ध किये गये भू आवंटन को निरस्त करने को लेकर सौंपा ज्ञापन

न्यायिक भवनों एवं न्यायिक अधिकारियों के आवास की भूमि का है मामला

नीमकाथाना(मनीष टांक) चला की ढाणी में न्यायिक भवनों एवं न्यायिक अधिकारियों के आवास के निर्माण को लेकर जनहित के विरूद्ध आवंटित भूमि को निरस्त करवाने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने मुख्य न्यायाधीश राजस्थान उच्च न्यायालय, राज्यपाल, मुख्यमंत्री को अतिरिक्त जिला कलेक्टर  के माध्यम से ज्ञापन दिया व आरोप लगाया कि विधायक सुरेश मोदी द्वारा अपने परिवारवालों को निजी लाभ दिलवाने के लिए प्रशासनिक अधिकारी नगरपालिका चैयरमैन, न्यायिक अधिकारियों से मिलीभगत कर भूमि आवंटन करवायी हैं। 
ग्राम चला की ढ़ाणी मे आवंटन भूमि के सामने नीमकाथाना विधायक के परिवार की खसरा नम्बर 1022.1023,1024,10251026,1027 1028,1029, 1030, 1031, 1032, 1033, 1034, 1035, 1036, 949 कुल 16 खसरो में 10.38 है0 भूमि व कृष्णा चेरिटेबल ट्रस्ट नीमकाथाना की खसरा नम्बर 10131014,1015,1016,1017.1018,1019,1020,1021 कुल 9 खसरों में 3.52 है0 भूमि ( कुल 25 खसरों में 13. 90 है0) इनके परिवार की भूमि स्थित हैं।

 नगरपालिका चैयरमैन सरिता दिवान, उपखण्ड अधिकारी बृजेश कुमार गुप्ता, तात्कालिक जिला न्यायाधीश ज्ञानप्रकाश गुप्ता व नीमकाथाना विधायक सुरेश मोदी सभी जाति से महाजन हैं एक जाति विशेष परिवारों को लाभ पहुचानें के लिए मिलीभगत कर न्यायिक भवनों एवं न्यायिक अधिकारियों के आवास के निर्माण हेतु आवंटित भूमि ग्राम चला की ढ़ाणी खसरा नम्बर 1190/955 रकबा 3.5 है० करवायी गयी हैं।

उक्त आवंटित भुमि वर्तमान मे स्थित न्यायिक कार्यालय से 3 किमी. से अधिकदुर हैं व सीधा रास्ता तंग गलियों से होकर लगभग 2 किमी. हैं।
आवागमन के कोई साधन नही हैं नगरपालिका पैराफेरी क्षेत्र नीमकाथाना में ऐसी बहुत सी जगह हैं जहां न्यायिक भवनों एवं न्यायिक अधिकारियों के आवास के निर्माण हेतु भूमि आवंटित की जा सकती थी एवं आवागमन सुलभ हैं। 

उक्त आवंटित भुमि सुरक्षा की दृष्टि से भी सही नही है। उक्त आवंटन से जहा विधायक परिवार की सम्पत्ति करोङो की हो जायेगी वही आमजन पर वहा जाने पर किराये आदि के रूप मे काफी बार पङेगा। आवंटन को निरस्त कराने की माग की गई। ईस दोरान भाजपा नेता   व पुर्व विधायक फुलचन्द गुर्जर, पाटन प्रधान सुवालाल सैनी, दोलतराम गोयल, प्रमोदसिह बाजोर, प्रभुदयाल शर्मा, बाबुलाल मीणा, सुभाष मिठारवाल, रामसिंह गुर्जर एडवोकेट, रामस्वरुप यादव, बाबूलाल गुर्जर,  सहित काफी कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…