अल्ट्राटेक सीमेंट कंपनी के मजदूरों का तीसरा दिन भी जारी रहा प्रदर्शन।

मजदूरों को उनका वाजिब हक देना होगा:-कॉमरेड बृजसुंदर जांगिड़

नीमकाथाना(मनीष टांक) सिरोही कस्बे में अल्ट्राटेक सीमेंट कम्पनी के मजदूरों द्वारा प्रबंधक को दिए गए मांग पत्र पर कोई सुनवाई नहीं होने से कारखाने के सभी मजदूर हड़ताल पर चले गए हैं।
 हड़ताल के तीसरे दिन फेक्ट्री गेट पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए सीटू जिला सचिव कॉमरेड बृजसुंदर जांगिड़ ने कहा कि प्रतिदिन 5000 सीमेंट बैग की डिलीवरी देने वाले इस कारखाने में मालिक द्वारा मजदूरों का भारी शोषण किया जा रहा है। मजदूरों को राज्य सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम वेतन भी नहीं दिया जा रहा है।

 आठ घंटे कड़ी मेहनत करने के बाद उनको मात्र 250रु मजदूरी दी जा रही है। मजदूरों को ग्रेच्युवेटी व ग्रेड फिक्स करने की सुविधा सहित अन्य कानूनी सुविधाओ से वंचित किया जा रहा है। 

बृजसुंदर जांगिड़ ने कहा कि मजदूर संगठन सीटू पूरे देश में हर मजदूर को न्यूनतम मजदूरी 24000 रू प्रति महीना देने की मांग कर रहा है और अल्ट्राटेक सीमेंट वर्क्स के मजदूरों को भी 24000 रुपये प्रति महीना दिया जाना चाहिए। मजदूरों का उनका वाजिब हक देना चाहिए। 

सभा को भवन निर्माण मजदूर यूनियन सीटू के नेता रतन सिंघल ने संबोधित करते हुए मजदूर एकता बनाने के लिए बधाई दी और केंद्र व राज्य सरकार की मजदूर विरोधी नीति की आलोचना की सभा को कॉमरेड सुरेश सैनी, तेजाराम, ग्यारसीलाल, मदन लाल, गोविंद सिंह, दुर्गाप्रसाद, पूर्ण टेलर, महावीर प्रसाद सहित अन्य वक्ताओं संबोधित किया। 

सभा की अध्यक्षता श्यामलाल बिहारी कुमावत ने की। आम सभा को नरसिंहपुरी पूर्व सरपंच व नौजवान सभा के नेता कॉमरेड गोपाल सैनी ने संबोधित करते हुए कहा कि हम मजदूरों की वाजिब मांगो का समर्थन करते हैं और आपके आंदोलन में हर तरह सहायता देंगे।
Previous Post Next Post