एक तरफ डेंगू, मलेरिया का खौफ, दूसरी तरफ गंदे पानी की निकासी को लेकर पालिका प्रशासन का ढीलापन, राजनीति की लड़ाई में मोहल्लेवासी हुए परेशान


नीमकाथाना। क्षेत्र में एक तरफ डेंगू, मलेरिया लगातार पैर पसार रहा है जिसकी चपेट में आकर कई लोगों की जान भी जा चुकी है और अनेक लोग डेंगू की चपेट में आकर काफी पीड़ा भोग चुके हैं लेकिन फिर भी नीमकाथाना का एक ऐसा नजारा जो आंखों से देखा नहीं जा रहा। हम बात कर रहे है पालिका क्षेत्र के वार्ड नंबर 21 व्यापारियों के मोहल्ले की जहां गंदे पानी की निकासी नहीं होने से वार्डवासियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। उक्त गंदे पानी के भराव होने से काफी मात्रा में डेंगू मलेरिया रोग फैलाने वाले मच्छर पनप रहे है। जिससे भयंकर बीमारियां होने का अंदेशा बन रहा है। आम रास्ते में पानी कीचड़ होने के कारण से पैदल चलने वाले लोगों के साथ साथ वाहन चालकों को परेशानी हो रही है। वार्ड के जावेद कुरेशी ने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त मामले को लेकर पालिका प्रशासन को कई बार लिखित मौखिक अवगत करवाया गया था। लेकिन आजतक उक्त गंदे पानी की निकासी को लेकर स्थाई समाधान नहीं किया गया। पानी भराव के कारण अधिकांश लोग भयंकर बीमारियों का शिकार हो चुके है। वर्तमान में डेंगू वायरस के चलते कई लोग चपेट में आ गए। मोहल्ले वासियों ने जल्द से जल्द गंदे पानी की निकासी का स्थाई समाधान नहीं करने पर आंदोलन की बात कहीं है।

इनका कहना है
उक्त गंदे पानी की निकासी को लेकर उपखंड अधिकारी सहित पालिका प्रशासन को कई बार अवगत करवा दिया लेकिन राजनैतिक दबाव के चलते कोई कार्रवाई नहीं की। जिससे वार्डवासियों में काफी रोष व्याप्त है। 
शाकिर अली
वार्ड पार्षद
Previous Post Next Post