बरसाती जल भराव का केंद्र बना महाविद्यालय का मुख्य मार्ग, उचित समाधान नहीं होगा तो करेंगे आंदोलन: विनोद सैनी

नीमकाथाना। उपखंड क्षेत्र में कई वर्षों से एसएनकेपी महाविद्यालय के बाहर बरसाती पानी भराव समस्या का केंद्र बना हुआ है। पालिका प्रशासन द्वारा भी इस पानी भराव को लेकर कोई उचित समाधान नहीं कर पा रही है। शहर में गत रात्रि से बरसात शुरू हुई जो बुधवार दोपहर तक चलती रही। बरसात से सड़कों पर पानी ही पानी हो गया। राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बरसात की वजह से महाविद्यालय के सामने सड़के तालाब बन गई। बुधवार को परीक्षाएं देने वाले विद्यार्थियों आने जाने में परेशानी झेलनी पड़ी। परीक्षा केंद्र तक कई विद्यार्थियों ने वाहनों के पीछे लटककर आना पड़ा। विद्यार्थियों ने बताया कि दशकों से चली आ रही जलभराव की समस्या पर ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे। जब जब बारिश होती है चारों तरफ़ का पानी महाविद्यालय प्रवेश द्वार के सामने 2-3 फीट भर जाता हैं जिससे छात्र छात्राओं का आने जाने का रास्ता बिल्कुल बंद हो जाता है। ऐसे में पहले भी कई बार अत्यधिक जलभराव के कारण दुर्घटनाएं हो गई। कई वाहन पानी के चलते बंद हो गए। वहीं गढ्ढों में चौपहिया वाहन भी फंस गए। स्थानीय प्रशासन को तत्काल प्रभाव से उक्त समस्या का स्थाई समाधान करना चाहिए जिससे आने जाने में कोई परेशानी नहीं झेलनी पड़े।

इनका कहना है
उक्त पानी भराव की समस्या कई वर्षों से चली आ रही है। राहगीरों को आने जाने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है। कॉलेज के विद्यार्थियों की परीक्षाएं चल रही है उनको वाहनों के पीछे लटककर वी पानी के अंदर से पैदल चल आना पड़ा। स्थानीय प्रशासन को जल्द से जल्द इस समस्या को दूर करें अन्यथा बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

विनोद कुमार सैनी
पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष
एसएनकेपी महाविद्यालय।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…