हसामपुर में इस बार नहीं होगी विष्णु के अवतारों की लीला, फेसबुक लाइव से होंगे भगवान के दर्शन


नीमकाथाना। हसामपुर कस्बे में श्रद्धा और आस्था का प्रतीक भगवान नृसिंह लीला महोत्सव राज्य की गाइडलाइन के अनुसार इस बार मंगलवार को आयोजन नहीं किया जाएगा। मंगलवार वैशाख शुक्ल नरसिंह चतुर्दशी को शाम 7:00 बजे संध्या आरती के दर्शन सोशल मीडिया द्वारा करवाए जाएंगे। मंदिर में किसी भी प्रकार का कोई धार्मिक आयोजन नहीं किया जाएगा। मंदिर दर्शनार्थियों हेतु बंद रहेगा। गौरतलब है कि हसामपुर ग्राम का नृसिंह लीला महोत्सव अब क्षेत्र के लिए प्रमुख उत्सव बन चुका है। कस्बे की नरसिंह लीला वर्षों पुरानी है। स्वामी समाज के अनुसार श्री नृसिंह मंदिर बिशन दास कुरुक्षेत्र में यज्ञ करवाने के बाद हसामपुर गांव में आकर पहाड़ियों में गाय चराने लगे जिनको पहाड़ी की खोल के अंदर एक बाजनी शीला के नीचे नृसिंह मूर्ति मिली। उन्होंने विक्रम संवत 1458 में नृसिंह मंदिर की स्थापना की इसके बाद से हर वर्ष नरसिंह चतुर्दशी को नरसिंह लीला का पांच दिवसीय महोत्सव मनाया जाता है जिसमें सैकड़ों की संख्या में भगवान नृसिंह के दर्शन करने के लिए दूरदराज से लोग पहुंचते हैं।


Previous Post Next Post