नीमकाथाना। प्रदेशभर में कोरोना के आंकड़ें दिन प्रति दिन बढ़ते जा रहे है। वहीं राज्य सरकार द्वारा जारी जन अनुशासन पखवाड़े के तहत अनुमत दुकानें लॉकडाउन में जारी रखने के आदेश जारी किए गए थे। जिसमें से शराब कि दुकानों का समय भी सुबह 6 से 11 बजे तक ही तय किया गया। लेकिन उपखंड क्षेत्र के शराब कारोबारियों पर ये आदेश लागू नहीं हो रहे? क्यूंकि शासन प्रशासन की आंखों में धूल झोंक या बेखौफ होकर अवैध कारोबार को बढ़ावा दे रहे है। 11 बजे बंद के आदेश दुकानों के शट्टरों पर तो लागू हो जाते है लेकिन दीवार सीमा के आसपास खिड़की बनाकर अतिरिक्त मूल्यों पर शराब बेच रहे, तो कहीं अवैध ब्रांचे चलाई जा रही है। सम्बन्धित विभाग को इस षड्यंत्र की जानकारी हो सकती है या नहीं ये तो जब कार्रवाई होगी तब सामने आएगी। वहीं शिकायतकर्ताओं द्वारा सम्पर्क पोर्टल पर समय सीमा का उलंघन करते हुए शराब बिक्री की शिकायत दर्ज करवाई जाती है। सम्बन्धित विभाग द्वारा औचक निरीक्षण किया जाता है। लेकिन कार्रवाई करने के बजाय जांच रिपोर्ट शराब कारोबारियों के पक्ष में भेजी जाती है। वहीं शिकायतकर्ताओं को शराब माफियों द्वारा धमकियों के साथ शिकायत पर चुप्पी साधने को कहा जाता है। ऐसे में शराब कारोबारियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। वहीं क्षेत्र में अवैध ब्रांचे भी बेखौफ होकर शराब बेच रहे है। गौरतलब है कि विगत दो दिन पूर्व ही शिकायत पर गांवड़ी मे अवैध ब्रांच पर एसडीएम बृजेश गुप्ता द्वारा बोगस ग्राहक बनकर ब्रांच पर कार्रवाई की गई थी। जिसमें करीब 80 हजार रुपए की शराब पुलिस ने जब्त की थी। लेकिन कार्रवाई होने के बाद भी अन्य शराब कारोबारियों को कोई खौफ नजर नहीं आ रहा है।

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।