नीमकाथाना। हरे पेड़ों के चारों तरफ बनाए गए सीमेंट कंक्रीट के चबूतरे को हटाने को लेकर आस्था जन कल्याण सेवा एनजीओ ने उपखंड अधिकारी, मुख्य सचिव, स्वायत शासन विभाग, जिला कलक्टर, नगरपालिका अध्यक्ष, ईओ, पीडब्ल्यूडी, वन विभाग को शिकायत भेजी। अध्यक्ष जुगल किशोर ने जानकारी देते हुए बताया कि पालिका क्षेत्र में सैकड़ों वर्ष पुराने बरगद, पीपल और नीम के बड़े पेड़ों के चारों तरफ पालिका प्रशासन एवं अन्य संस्थाओं द्वारा सीमेंट कंक्रीट के चबूतरे बना दिए गए जिसके कारण पेड़ों को सांस लेने में परेशानी हो रही है एवं पेड़ नष्ट होने के कगार पर हैं। उक्त प्रकरण जैसा एनजीटी रिट पिटिशन संख्या 82/2013 में निर्णय अंतर्गत पेड़ के एक मीटर परिधि में सीमेंट कंक्रीट नहीं डालने के आदेश दिए गए एवं तत्काल प्रशंज्ञान से उसको हटाने की कार्यवाही एवं जुर्माना संबंधित आदेश दिया गया। शिकायत में तत्काल प्रभाव से पालिका प्रशासन के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई करते हुए पालिका क्षेत्र में बरगद, पीपल, नीम के बड़े पेड़ों के बनाए गए सीमेंट कंक्रीट के चबूतरे को पेड़ की परिधि के एक मीटर परिधि में सीमेंट कंक्रीट हटाए जाने की तत्काल कार्यवाही की मांग की गई। जिससे पेड़ों को श्वास लेने में कोई परेशानी नहीं हो रही है। उक्त प्रकरण में प्रभावी कार्यवाही नहीं की जाने पर संबंधित दोषी अधिकारी कर्मचारी संस्था के विरोध संस्था जनहित को ध्यान में रखते हुए उच्च न्यायालय में वाद दायर करने के लिए स्वतंत्र रहेगी। जिसकी हर्जे खर्चे की जिम्मेदारी दोषी अधिकारी की होगी।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।