त्रिवेणी टोल प्लाजा पर हुई डकैती के मामले में चार आरोपी गिरफ्तार, वारदात में काम में ली गई स्क्रापियों जप्त


 नीमकाथाना। अजीतगढ़ पुलिस ने त्रिवेणी टोल प्लाजा पर मारपीट, डकैती व आगजनी के मामले में वारदात का खुलासा करते हुए चार आरोपियों सहित घटना में काम में ली गई गाड़ी को जब्त किया है। महानिरीक्षक पुलिस जयपुर रेंज जयपुर हवासिंह घुमरिया व पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप द्वारा सक्रिय अपराधियों की धरपकड के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतनलाल भार्गव के निर्देशन में वृत्ताधिकारी गिरधारी लाल शर्मा के सुपरविजन में थानाधिकारी सवाई सिंह के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। जिसमें हैड कांस्टेबल बलबीर सिंह, देशराज, राकेश कुमार, कृष्ण कुमार, जितेन्द्र कुमार, मुंशी सिंह द्वारा सोमवार को शाहपुरा रोड त्रिवेणी टोल प्लाजा डकैती कर टोल के ऑफिस को पट्रोल डालकर जलाने की वारदात करने वाले आरोपी सुमित पारीक व ताराचन्द गुर्जर को सुशांत सिटी कालवाड रोड जयपुर के पास से दबिश देकर पकडा एवं आरोपी कमलेश बावरिया को घटना में काम में ली गई स्कार्पियों नं. आरजे. 32 यूए 5333 को लोकेशन के आधार पर पीछा कर सिकन्दरा जिला दौसा से पकडा। जिन्हे बाद अनुसंधान के दौरान ताराचन्द को गिरफ्तार किया गया। आरोपी सुमित व कमलेश को बापर्दा गिरफ्तार किया गया। व वारदात में प्रयुक्त गाड़ी को जब्त किया गया। थानाधिकारी सवाई सिंह ने बताया कि आरोपियों से गहनता से पुछताछ की जा रही है। गौरतलब है कि 15 जनवरी 2021 को परिवादी जगदीप जाट हाल सुपरवाईजर आरएसआरडीसी
त्रिवेणी टोल प्लाजा अजीतगढ ने एक रिपोर्ट दी। जिसमें बताया कि सुबह 5.00 बजे प्लाजा के ऑफिस पर झगड़े की आवाज सुनाई दी। आवाज सुनकर ऑफिस से उठाकर बाहर आकर देखा कि ताराचन्द गुर्जर निवासी बलोड व रघुवीर उर्फ रघु गुर्जर निवासी दिवराला अपने साथियों के साथ बुथ पर तोड़फोड़ कर रहे थे। जिनमें से एक युवक ने हमारी कम्पनी के टीसी कर्मचारी दीपक पर पिस्तौल तानकर रूपए लुट रहा था उसके बाद कुछ लोग ऑफिस की तरफ तोड़फोड़ करने लगे व मेरे पर भी हमला कर दिया जिससे मुझे काफी चोट आई। उक्त व्यक्तियों ने मेरे पर पेट्रोल डालकर आग लगाने की कोशिश की बडी मुश्किल से बचकर भाग निकला। उन्होने ऑफिस मे रखी अलमारी से लगभग दो लाख रूपए लुटकर ऑफिस मे पेट्रोल डालकर आग लगा दी। उन्होने सारे कमरे व बुथ की मशीने तोड दी और सारे स्टाफ के फोन छिनकर ले गए। पुलिस ने धारा 458, 395, 341, 323, 436, 427 भादस व 3/25 आर्म्स एक्ट में दर्ज किया जाकर जांच शुरू की। पुलिस ने आरोपी सुमित पारीक पुत्र सुरेश कुमार पारिक निवासी पारिको का मोहल्ला अजीतगढ, कमेलश बावरिया पुत्र छोटू बावरिया निवासी बावरियो की ढाणी मनोहरपुरा, ताराचंद उर्फ तारा पुत्र गुल्लाराम गुर्जर निवासी खर्लवा की ढाणी जमवारामगढ, ललित पुत्र कालूराम निवासी चक मनोहरपुर चन्दवाजी को गिरफ्तार किया गया है।
Previous Post Next Post