नीमकाथाना- भारत आज राष्ट्रीय बालिका दिवस मना रहा है।  इस मौके पर देश के नेताओं और जनप्रतिनिधियों ने देश की बेटियों को सम्मान देने का अपना प्रण दोहराया है।  इस दिवस को मनाने का उद्देश्य अपने समाज में बालिकाओं को उनके अधिकारों के प्रति सजग बनाना है, और किसी भी तरह के भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाने के लिए उन्हें जागरूक करना है।  इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल समेत दूसरे नेताओं ने बधाई दी है। 

बालिका दिवस पर नीमकाथाना न्यूज़ टीम से अम्बेडकर कॉलोनी स्थित प्रियंका बिजारणियां ने विशेष बातचीत की।  टीम को बताया कि 24 जनवरी के दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को नारी शक्ति के रूप में याद किया जाता है। इस दिन इंदिरा गांधी पहली बार प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला था। इसलिए इस दिन को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

प्रियंका ने कहा की उसका लक्ष्य इसरो में जाने का है। प्रियंका अभी अध्ययन कर रही है, हाल ही में प्रिंयका ने हैदराबाद आई आई टी में  7वीं  रैंक हासिल की है। इनकी शिक्षा निजी शिक्षण संस्थान अरावली स्कूल से हुई है। प्रियंका ने बताया की वह वर्तमान में भारत सरकार की सेवार्थ में है, और भारत की पहचान फिर से विश्व गुरु  रूप में हो इसके लिए हमें देश के लिए सदैव अच्छा करना चाहिए। 

ज्ञातव्य है कि देश में हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है. साल 2009 में महिला बाल विकास मंत्रालय ने इस कार्यक्रम की शुरुआत की थी. 24 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया, क्योंकि इसी दिन साल 1966 में इंदिरा गांधी भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री बनी थीं। 



- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।