भूमि विस्तार करने को लेकर दो सौ साल पुराने बरगद के हरे पेड़ की चढ़ा दी बलि

Jkpublisher
0

राजस्थान पुलिस की ट्विटर पर नवीनतम पहल, राज पुलिस हेल्प डेस्क के माध्यम से हुई कार्यवाही

नीमकाथाना। 'बरगद' नाम सुनते ही जेहन में छांव भरा आवरण सा उभर आता है हजारों पक्षियों का बसेरा शाम होते ही कई प्रकार के पक्षियों की चहचाहट शुरू हो जाती है, लेकिन इन बेजुबानों के बसेरों की पता नहीं क्यों दुनिया दुश्मन बन जाती है वाकया नीमकाथाना के वार्ड नं 07 में स्थित श्याम मंदिर कमेटी के अध्यक्ष द्वारा 200 वर्ष पुराने बरगद के पेड़ को अतिक्रमनीय रूप से भूमि विस्तार के मकसद से कटवा दिया गया। पिछले कई वर्षो से मंदिर कमेटी के अध्यक्ष द्वारा गैर कानूनी रूप से भूमि पर अतिक्रमण किया जा रहा है जिसमे बरगद के 200 साल पुराने पेड़ को बलि चढ़ा दिया गया। जिसपर आस्था जन कल्याण सेवा समिति नीमकाथाना ने उक्त मामले को लेकर दूरभाष पर पुलिस थाना कोतवाली में शिकायत भेजी। समिति अध्यक्ष द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि श्याम मंदिर कमेटी नीमकाथाना द्वारा श्याम मंदिर परिसर का भूमि विस्तार करने की नीति से अतिक्रमण करते हुए अनावश्यक करीब 200 वर्ष पुराने हरे-भरे को काटा गया जिसकी फोटो रिकॉर्ड कर पुलिस हेल्प डेस्क के ट्विटर पर भेजी गई जिस पर सीकर पुलिस को त्वरित कार्रवाई के लिए प्रेषित किया गया। वहीं पुलिस कोतवाली एस आई चेतराम जाट को दूरभाष पर प्रकरण की जानकारी दी गई उक्त प्रकरण की विधि सलाहकार से जानकारी लेकर दोषी उक्त प्रकरण में समिति आवश्यक कार्रवाई हेतु मामला दर्ज करवाएगी जिससे भविष्य में इस प्रकार की पुनरावृति रोकथाम लगे। गौरतलब है कि आस्था जन कल्याण सेवा समिति नीमकाथाना रजिस्टर्ड संस्था है जिसका मुख्य उद्देश्य जनहित सेवार्थ भ्रष्टाचार, पर्यावरण संबंधित विभिन्न कार्य करती है। वहीं शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने मौका मुआयना किया।

Post a Comment

0Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !