नीमकाथाना/पाटन@माइनिंग विभाग मैं कार्यरत कनिष्ठ सहायक राजेंद्र प्रसाद सैनी जोकि इन दिनों दलपतपुरा माइनिंग नाका देख रहे हैं उन्होंने मीणा की नांगल में एक डंपर को रुकवा कर जब रवन्ना देखने की बात कही तो उनके साथ मारपीट की गई।
राजेंद्र सैनी ने बताया की डंपर चालक ने किसी को फोन कर दिया जिससे शेरावाली स्टोन क्रेशर से दो युवक पहुंचे तथा आते ही मेरे साथ मारपीट की गई जिस दौरान मेरा चश्मा भी तोड़ डाला और मेरे साथ जानलेवा हमला किया गया तथा मुझे जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि दोबारा इस एरिया में नजर आ गए तो अंजाम बहुत बुरा होगा। घटना के बाद राजेंद्र सैनी ने इस प्रकरण का मामला पाटन थाने में दर्ज करवाया। परंतु खनन माफिया इस प्रकरण में राजीनामा करने का दबाव बनाने में जुटे हुए हैं। डंपर राजाराम गोलवा का बताया जा रहा है। माइनिंग नाकेदार राजेंद्र सैनी पर हमला करने वाले आरोपी अभी पुलिस की पहुंच से दूर हैं।