नीमकाथाना/पाटन@निकटवर्ती ग्राम हसामपुर में आज एक मरे हुए लोमड़ी के बच्चे को देखा गया जो सुरेंद्र शर्मा और विष्णु शर्मा के मकान के पीछे  मरा हुआ पड़ा था।
नील कमल शर्मा ने बताया कि गांव में पहले से ही मादा पैंथर और उसके दो बच्चे आए हुए हैं उनके डर से पहाड़ से जानवर नीचे गांव की आबादी क्षेत्र में आने लगे हैं। वन विभाग की रेस्क्यू टीम द्वारा पैंथर को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया हुआ है लेकिन 3 दिन से पिंजरा खाली है उसमें अभी तक पैंथर पकड़ा नहीं गया लेकिन पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले जंगली जानवर गांव में आने लगे है जिसके चलते गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है और तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है।