नीमकाथाना@ शहर में स्थित इशांत एजेंसी पर खाद्य सुरक्षा विभाग व सेल टैक्स की संयुक्त कार्यवाही की गई। जिससे आसपास में हड़कंप मच गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी रतन गोदारा ने जानकारी देते हुए बताया कि उपखंड अधिकारी नीमकाथाना को आस्था जन कल्याण सेवा समिति की शिकायत मिली थी जिसपर  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अजय चौधरी के निर्देश पर कार्यवाही की गई है। कार्यवाही के लिए उपखंड अधिकारी ने शिकायत की जांच के लिए टीम गठित की। जिसमें में और नायब तहसीदार फूलचंद मीणा इशांत एजेंसी पुराना बस स्टैंड पर पहुंचकर दुकान का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान दुकान में रखे माल के खरीद बिल उपस्थित मिले। वहीं रिको एरिए में स्थित इशांत एजेंसी के गोदाम का भी निरीक्षण किया गया। वहां पर रखा गया पेय पदार्थ की भी जांच की गई। वहां भी उनके द्वारा बिल से ही बेचान किया गया था बिना बिल के कोई माल नहीं मिला। गोदाम में जो एक्सपायर माल था उसको अलग से टैग लगा कर रखा हुआ था। जिसके लिए उस को पाबंद किया गया कि वह इसका कोई विक्रय नहीं करेगा वापस कंपनी को भिजवा आएगा तथा इसकी सूचना टीम को देगा।
एजेंसी द्वारा विक्रय किए जा रहे पदार्थों में से पेप्सी मरिंडा डियू के 3 सैंपल लिए गए। तीनों को मौके पर ही पैकसील मोर किया गया। जिनकी लैबोरेट्री से जांच करवाई जाएगी। गोदारा ने बताया है कि जांच में अगर मिलावट पाई जाती है तो फर्म पर नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान ही फर्म पर सेल टैक्स की टीम भी पहुंची उनके द्वारा भी कार्रवाई कर  उपखंड अधिकारी को रिपोर्ट बनाकर प्रस्तुत की गई।