नीमकाथाना@विश्व में महामारी का विकराल रूप ले चुके कोविड-19 के दौरान लगे लॉक डाउन मैं जहां राज्य सरकार प्रत्येक व्यक्ति को भोजन उपलब्ध करवाने के लिए संकल्पित है तथा जनप्रतिनिधियों, भामाशाह, दानदाताओं से भी अपील कर रही है कि अपने क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति खाद्य सामग्री के अभाव में की भूखा नहीं रहे, लोक डाउन के दौरान स्थानीय प्रशासन जरूरतमंद लोगों के लिए खाद्य सामग्री भामाशाह एवं दानदाताओं के सहयोग से उपलब्ध करवा रहा है, वहीं क्षेत्र के जनप्रतिनिधि भी अपनी ओर से जरूरतमंद लोगों की सहायता को लेकर कोई कमी नहीं छोड़ रहे हैं,  शुक्रवार को  पूर्व विधायक  रमेश खंडेलवाल  के द्वारा  महामारी के दौरान विधानसभा क्षेत्र  में जरूरतमंद लोगों की  सहायता को लेकर 1100 किट खाद्य सामग्री ग्राम पंचायतों में  वितरण के लिए  खेतड़ी मोड़ स्थित विकास मंच कार्यालय पर उपलब्ध करवाएं। इस अवसर पर  मीडिया कर्मियों से  वार्ता करते हुए  पूर्व विधायक  खंडेलवाल ने  बताया कि कोविड-19 के दौरान  लगे लोक डाउन में  जरूरतमंदों की  सहायता को लेकर  प्रशासन द्वारा  खाद्य सामग्री  उपलब्ध करवाई जा रही है।
लेकिन  ग्रामीण एवं  शहरी क्षेत्र  के कई कार्यकर्ताओं ने  अवगत कराया कि  आज भी  कई  गरीब जरूरतमंद लोगों को  खाद्य सामग्री  नहीं पहुंच रही है। इसको लेकर  विधानसभा क्षेत्र के  सभी  कार्यकर्ताओं को  अपने क्षेत्र अनुसार  ऐसे  गरीब  जरूरतमंद लोगों की  सूची  बनवाई गई है  जिनको  प्रशासन द्वारा  आज तक  खाद्य सामग्री  नहीं मिल पाई है ,  विधानसभा क्षेत्र के ऐसे  जरूरतमंद  लोगों के  लिए  खाद्य सामग्री के  किट  बनवाए गए हैं  जिसमें  एक परिवार के लिए 5 दिन की  खाद्य सामग्री  का सामान  है। कार्यकर्ताओं के सहयोग से  इस खाद्य सामग्री को  प्रत्येक गांव में पहुंचा कर  जरूरतमंद  परिवारों को वितरित की जाएगी।  विकास मंच कार्यालय से शुक्रवार को  लगभग 180 किट  खाद्य सामग्री  के वाहन को हरी झंडी दिखाकर  पूर्व विधायक  खंडेलवाल ने  रवाना किया। इस दौरान  पूर्व नगर कांग्रेस अध्यक्ष दौलत शर्मा, पूर्व प्रधान भगवान सहाय कस्वा, सुभाष अग्रवाल छावनी,  सतीश शर्मा, वीरेंद्र गुप्ता, सत्यनारायण अग्रवाल अनेक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।