नीमकाथाना@क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर प्रधानमंत्री के 21 दिन के लॉक डाउन की घोषणा के बाद अब प्रशासन ने सख्त रुख अपनाना शुरू कर दिया। सुबह से ही प्रशासन के उच्च अधिकारी शहर के मार्ग पर अनावश्यक रूप से घूमने वाले लोगों एव वाहनों पर सख्त कार्यवाही की। वही लोगो से घरों में ही रहने की अपील कर रहे है।
लेकिन अनावश्यक रूप से रात दिन कपिल मंडी सुभाष मंडी में रोड के पास बनी दुकानों पर बैठे रहते हैं। जिसपर पुलिस गली मोहल्लों में भी गश्त कर रही है। वही लॉकडाउन के चलते अनावश्यक रूप से घूम रहे पाटन पुलिस ने 45 वाहनों को जब्त किया।
सुबह जब सब्जी मंडी खुली तब लोगो की भीड़ देखने को मिली लेकिन बाद में सब्जी मंडी में उचित मात्रा में सब्जी नहीं होने पर जल्दी ही बंद कर दिया गया। कई जगह से शिकायत आ रही है कि हमारे वार्ड में अभी तक पालिका द्वारा कोई संक्रमण रोधी दवा नहीं छिड़की गई है। वहीं दानदाता एवं भामाशाह आगे आए हैं जो जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं जिसमें अरावली कॉलेज, रोटरी क्लब, पूर्व सरपंच गोपाल सैनी, बाबा नारायण दास ग्रुप ऑफ एजुकेशन सहित अन्य लोगों ने मास्क एवं खाद्य पदार्थ सामग्री बांटी है
वहीं दूसरी तरफ पंचायत समिति के समस्त ग्राम विकास अधिकारियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपने 1 दिन का वेतन दिया गया है। दुकानदारों द्वारा उचित मूल्य से ज्यादा रुपए एवं कालाबाजारी का समाचार जानने के बाद उपखंड अधिकारी ने रेट लिस्ट के आदेश जारी किए। जिसपर आज गुरुवार को दोपहर उपखंड अधिकारी साधुराम जाट एवं तहसीलदार बृजेश कुमार अग्रवाल ने अधिकारियों सहित कपिल मंडी सब्जी मंडी आदि का निरीक्षण किया एवं सभी दुकानदारों के पास जाकर रेट लिस्ट दुकान पर चिपवाई गई एवं ग्राहक की दूरी कम से कम 3 फुट की तय की गई व चाक से तहसीलदार ने गोले बनाएं एवं ग्राहक के खड़े रहने की दूरी निर्धारित की।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।