नीमकाथाना@इलाके के आगवाडी के मदन लाल मीणा की मौत का मामला तूल पकड़ गया आज दलित संगठनों के साथ सेकड़ो लोगों ने कोतवाली थाने के बाहर शव रखकर प्रदर्शन सुरु कर दिया।लोगो ने जिला कलेक्टर एव पुलिस अधीक्षक को मौके पर बुलाने एव पीड़ित परिवार को 50 लाख मुआवजा, मृतक के बेटे को सरकारी नोकरी, दोनो थानाधिकारियों को हटाने मांग की है।उन्होंने कहा कि जब तक उच्च अधिकारी नही आ जाते तब तक किसी तरह की वार्ता नही करेंगे।
हम आप को बता दे 4 मार्च को भंडारे में मोबाइल चोरी के शक में बुजुर्ग व्यक्ति का अपहरण कर रेलवे ट्रैक के पास तिबारे में ले जाकर बुजुर्ग व्यक्ति के साथ लाठी-डंडों से जमकर मारपीट की थी मामले में मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल वायरल हुआ था। मामले को लेकर 8 मार्च को बेटे कानाराम ने कोतवाली थाने में आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करवाया था। वही मारपीट में बुजुर्ग व्यक्ति गंभीर होने पर उसे जयपुर एसएमएस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां इलाज के दौरान मदनलाल ने कल दम तोड़ दिया ।मामले को लेकर पुलिस ने दो मुख्य आरोपीयो सहित 5 लोगो को गिरफ्तार कर चुकी है प्रदर्शन के दौरान आदिवासी मीन सेना के राष्ट्रीय प्रमुख व राजस्थान आदिवासी सेवा संघ के प्रदेश प्रधान सुरेश मीणा, बसपा नेता राजेश भाई डा रोशन मुंडोतिया सहित सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद।घटना को लेकर पुलिस अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिनेश अग्रवाल पुलिस उपाधीक्षक बनवारी धायल खंडेला थानाधिकारी महेंद्र मीणा, अजीतगढ़ थाना अधिकारी सवाई सिंह तवर सहित जाब्ते के साथ मौजूद हैं।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।