नीमकाथाना@आगवाडी निवासी मदन लाल मीणा की मौत के मामले में कोतवाली थाने के बाहर शव रखकर 2 दिनों से चल रहा प्रदर्शन मांगो पर सहमती बनने के बाद समाप्त हो गया। आज जिला कलेक्टर यज्ञमित्र सिंह देव एवं पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला कोतवाली थाने पहुंचे। प्रतिनिधि मंडल जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से मिलकर मांगपत्र सौपा। प्रशासन एव धरनार्थियों के बीच वार्ता होने के बाद दोनों में सहमति बनी। सहमति बनने के बाद धरना दे रहे लोगों ने धरने को समाप्त कर दिया।
वार्ता में 8.50 लाख रुपये मुआवजा,आरोपियों पर 302 मुकदमा दर्ज करने, परिवार में तीनों भाइयों को बीपीएल में करने, पत्नी को पेंशन, संविदा पर नोकरी, बाकी बचे आरोपियों को गिरफ्तार करने सहित मावंडा खुर्द की सपना खटीक की हत्या कर आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग सहित 7 सूत्रीय मांगों पर सहमति बनी। हम आप को बता दे 4 मार्च को भंडारे में मोबाइल चोरी के शक में बुजुर्ग व्यक्ति का अपहरण कर रेलवे ट्रैक के पास तिबारे में ले जाकर लाठी-डंडों से जमकर मारपीट की थी मामले में मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। मामले को लेकर 8 मार्च को बेटे कानाराम ने कोतवाली थाने में आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करवाया था।
वही मारपीट में बुजुर्ग व्यक्ति गंभीर घायल होने पर उसे जयपुर एसएमएस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां इलाज के दौरान सोमवार को दम तोड़ दिया। मामले को लेकर पुलिस ने दो मुख्य आरोपियों सहित 5 लोगो को गिरफ्तार कर चुकी है। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों में बसपा नेता राजेश भाईडा, सुरेश मीणा किशोरपुरा, गिगराज जोड़ली, युवानेता काली मीणा, कपिलदेव,रोशन मुंडोतिया सहित अनेक लोग मौजूद रहे वहीं सुरक्षा को लेकर कोतवाली थाने के बाहर भारी पुलिस जाब्ता तैनात रहा।