फिर सुर्खियों में छाए स्कूल प्रधानाचार्य व स्टाफ के झगड़े
स्कूल के बच्चो ने कहा स्कूल में पढ़ाई नही होती स्टाफ में लड़ाई होती है

गणेश्वर(उमेश शर्मा)@गणेश्वर की राजकीय उच्च माद्यमिक विद्यालय राजनीतिक चक्रव्यू अफवाहों के दौर में गिरते नजर आ रही है आसपास के क्षेत्र में विद्यालय की चर्चा भी जोरो पर है कभी विद्यालय की शिक्षिका द्वारा छेड़छाड़ का आरोप लगाने की अफवाहे जोर पकड़ लेती है तो कभी प्रधानाचार्य द्वारा शिक्षिको को परेशान करने की अफवाहे फैलाई जाती है। रामनारायण अग्रवाल ने बताया कि बंद विद्यालय के कमरो की पट्टिया टूटी हुई है गांव के भामाशाह को प्रेरित कर बंद विद्यालय के जीणोद्धार के लिए काम शुरू किया प्रधानाचार्य से बंद विद्यालय की चाबी मंगवाई गई। गांव के लोगो ने गलत अफवाहे फलाई काम रोक दिया गया।
समाजसेवी का कहना था बंद विद्यालय भी करीब 45 वर्ष पहले इसी भामाशाह द्वारा बनवाया गया था। 8 वर्ष पूर्व इसी भामाशाह ने चालू उच्च माद्यमिक विद्यालय में 25 लाख रुपये खर्च कर कमरो का निर्माण करवाया गया था। लोगो ने गलत तरीके से जीणोद्धार के बारे में सोचकर विकास कार्य रोक दिया। उधर विद्यालय के प्रधानाचार्य पवन शर्मा का कहना है चाबी विद्यालय के स्टोर प्रभारी बाबू के पास रहती है मैने ग्रामीणों को चाबी नही दी। बंद विद्यालय में तोड़फोड़ को लेकर सदर थाने में मामला दर्ज करवाया है। सदर पुलिस मामले की जाँच के लिए विद्यालय में पहुँची। विद्यालय में तोड़फोड़ की सूचना उपखंड अधिकारी से लेकर शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों तक भी पहुँच चुकी हैं। ग्रामीणों ने बताया कि मामला तूल पकड़ता जा रहा है पहले भी प्रधानाचार्य के खिलाफ दर्जन भर शिकायते शिक्षा विभाग में दर्ज है। सरपंच प्रतिनिधि छाजूराम यादव ने बताया कि स्कूल का मामला तूल पकड़ता जा रहा है पहले भी हमने स्कूल में बेठक लेकर मामले को शांत करवाने की कोशिश की थी।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।