विज्ञापन मात्र500/- से शुरू

News Update

अपडेट-सरकारी नौकरी व उचित मुआवजे की मांग को लेकर पूर्व विधायक के नेतृत्व तीन घण्टे धरना चला, लिखित समझौते के बाद शव का हुआ पोस्टमार्टम

नीमकाथाना-रविवार शाम को खादरा मोड़ मान होटल के पास 11 हजार केवी लाईन के करंट की चपेट में आने से विद्युतकर्मी बहादुरमल सैनी की मौत का मामला तूल पकड़ गया। सोमवार सुबह अस्पताल में पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल, आरएलपी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डॉ मनीष चौधरी, मदन आड़तिया, सरपंच बीएल आगवाड़ी एवं जुगलकिशोर, मंजू सैनी भी पहुँची। परिजनों से वार्ता कर बिजली विभाग की घोर लापरवाही बताई।
अस्पताल में पूर्व विधायक खंडेलवाल लोगों से वार्ता करते
जिसपर पूर्व विधायक खण्डेलवाल के नेतृत्व में सरकारी नौकरी व उचित मुआवजे की मांगों को लेकर धरने पर बैठ गए। करीब तीन घण्टे के बाद उपखण्ड अधिकारी अंजू शर्मा, बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता रामसिंह मौके पर पहुँचे।
लोगों से समझाईस की लेकिन मामला शांत नही हुआ।  मंत्री से दूरभाष पर वार्ता कर मृतक परिजनों को सरकारी नौकरी व उचित मुआवजे की मांग रखी। जिसपर मंत्री ने मुख्यमंत्री से बात करके सरकारी नोकरी ओर मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। सभी लोगों ने प्रशासन से लिखित समझौता करके मामले को शांत करवाया। समझौते पर सभी ने सहमति जताई। कोतवाली पुलिस की मौजूदगी में शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। इस दौरान अस्पताल में सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा रही।